कामवासना डॉट नेट

-Advertisement-

अकेली मम्मी और अकेला मैं - 4 
@Kamvasna 19 अगस्त, 2023 4951

लंबी कहानी को बिना स्क्रॉल किए पढ़ने के लिए प्ले स्टोर से Easy Scroll एप डाउनलोड करें।

अकेली मम्मी और अकेला मैं - 3

यानी अब घर पर सिर्फ मै, स्वीटी और पंकज ही थे। फिर अब घर पर सोनिया नहीं थी तो खाना खाने के लिए हमने बाहर जाने का प्लान बनाया। तब स्वीटी ने ऊपर ब्रा और नीचे बस स्कर्ट पहन ली पैंटी नहीं पहनी। फिर हम तीनों स्कूटी पर ही चल पड़े। तब तक रात हो चुकी थी। तब स्कूटी पंकज चला रहा था और स्वीटी बीच मे बैठी थी। फिर मै पीछे बैठकर स्वीटी के बदन को सहला रहा था। फिर हम तीनों एक रेस्टॉरेंट में गए तो वहां सब स्वीटी को देखते ही रह गए पर इससे हममें से किसी को भी कोई फर्क नहीं पड़ा। हमने खाना खाया और फिर हम वापिस आने लगे। फिर वापिस आते टाइम मैंने स्वीटी की ब्रा खोल दी तो अब स्वीटी ऊपर से पूरी नंगी थी। फिर हम ऐसे ही चलते रहे। तब रास्ते मे ज्यादा ट्रैफिक नहीं था तो फिर स्वीटी ने स्कूटी रुकवाई और फिर उसने स्कर्ट खोलकर मुझे दे दी और वो पूरी की पूरी नंगी हो गई। फिर तब सड़क एक दम सुनसान थी तो फिर स्वीटी सड़क पर इधर उधर घूमने लगी। सड़क पर स्ट्रीट लाइट्स लगी थी तो फिर स्वीटी वहां अपनी फोटो खिंचवाने लगी। तब स्वीटी को काफी मजा आ रहा था। 

 

फिर स्वीटी हमारे बीच नंगी ही बैठ गई और फिर घर तक नंगी ही आई। हालांकि तब सर्दी थी तो फिर घर आते ही स्वीटी रजाई में घुस गई और फिर मै और पंकज भी नंगे होकर रजाई में घुस गए। तब स्वीटी हम दोनो के बीच लेटी थी। फिर हम तीनों मस्ती करने लगे। तब पंकज ने लैपटॉप में पोर्न फिल्म चला ली और फिर वो अपना लण्ड सहलाने लगा और उधर मै स्वीटी के बदन को सहलाने लगा। फिर स्वीटी मेरी तरफ करवट लेकर लेटी थी तो फिर पीछे से मै उसकी चुत मारने लगा और फिर वो पंकज का लण्ड पकड़कर सहलाने लगी तो फिर पंकज आंख बंद करके मजे लेने लगा। फिर हम तीनों झड़ गए। फिर स्वीटी उठी और फिर वो मेकअप वगैरह करने लगी और फिर उसने अपने बालों का जुड़ा बनाया और फिर वो एकदम किसी पोर्न स्टार की तरह लग रही थी। 

 

फिर तभी मै उसकी वीडियो बनाने लगा। फिर तब पंकज पेशाब करने गया था तो फिर वो वापिस आया तो फिर स्वीटी उससे चिपक गई और फिर मुझे फ़ोटो खींचने के लिए कहा तो मै खींचने लगा। तब फिर स्वीटी के कहे अनुसार पंकज पोज करने लगा। तब पंकज भी खुलकर स्वीटी के साथ पोज दे रहा था। तब पंकज कभी स्वीटी की गर्दन पर किस कर रहा था तो कभी स्वीटी की गाँड सहला रहा था तो कभी स्वीटी के बूब्स अपने मुंह मे ले रहा था। उधर स्वीटी भी पंकज का लण्ड पकड़कर मजे से फ़ोटो खिंचवा रही थी। फिर इतना ही नहीं फिर वो दोनो बेड पर आ गए और फिर स्वीटी पंकज का लण्ड पकड़कर फिर वो पंकज के लण्ड पर किस करते हुए फ़ोटो खिंचवाने लगी। फिर स्वीटी लेट गई और अपनी टाँगे खोलकर पंकज से अपनी चुत चटवाते हुए फ़ोटो खिंचवाने लगी। फिर हम सब गर्म हो गए तो फिर स्वीटी को घोड़ी बनाकर मै उसकी चुदाई करने लगा और उधर पंकज अपना लण्ड हिलाने लगा। फिर पंकज जब झड़ने लगा तो ये देखकर स्वीटी उसका लण्ड मुँह में लेकर चुसने लगी और फिर जब मै झड़ने वाला हुआ तो उसने मेरा लण्ड भी चूस दिया। 

 

फिर हम सब सो गए। फिर हम जब सुबह उठे तो फिर मैंने बिस्तर में ही स्वीटी के साथ कई सेल्फी ली। फिर मैंने एक सेल्फी ली जिसमे हम तीनों आ रहे थे। हालांकि तब पंकज तो दूसरी तरफ मुँह करके लेटा था तो फिर उसकी बस पीठ आ रही थी। फिर वो फ़ोटो मैंने व्हाट्सप्प पर स्टेटस लगा दिया। फिर मेरे दोस्तों के मैसेज आने लगे के भाई दूसरा लड़का कौन है। तब जाकर मुझे अपनी गलती का एहसास हुआ और फिर मैंने वो फ़ोटो डिलीट कर दी। लेकिन फिर मेरे दोस्त लगातार मुझसे पूछते ही रहे। फिर जब मै अपने दोस्तों से मिला तो तब मैं उनको स्वीटी की एक वीडियो दिखाने लगा। जिसमे वो नंगी थी और घूम रही थी। तभी उस वीडियो में पंकज वॉशरूम से बाहर निकलता हुआ दिखाई दिया तो ये देखकर मेरे सब दोस्त देखते ही रह गए। तब पंकज भी नंगा ही था। फिर मैंने मेरे दोस्तों को स्वीटी और पंकज की कुछ फोटो दिखाई। जिसमे वो दोनो नंगे थे। वो फ़ोटो देखकर तो मेरे दोस्तों का बुरा हाल हो गया। फिर मैंने मेरे दोस्तों को बताया के स्वीटी काफी मॉडर्न है तो उसे अपने भाई के सामने नंगी होने में शर्म नहीं आती है और वैसे भी हम तीनों दोस्त है तो हम लगभग एक साथ ही रहते है और खूब मस्ती मजाक करते है। हालांकि मेरे कुछ और दोस्त भी अपनी गर्लफ्रैंड की नंगी फ़ोटो हमे दिखाते है पर उन सबसे ज्यादा सेक्सी स्वीटी ही है। 

 

उधर फिर ये बात पहले मैंने स्वीटी को बताई के मैंने उन दोनों भाई बहन की नंगी फ़ोटो अपने दोस्तों को दिखा दी है तो ये सुनकर वो काफी एक्सआईटेड हो गई और फिर हमने पंकज को भी ये बताया तो उसे कुछ खास फर्क नहीं पड़ा। फिर सुबह उठने के बाद स्वीटी चाय बनाकर लाई और चाय पीकर हम फिर से रजाई में ही लेट गए। फिर पंकज ने लैपटॉप में पोर्न वीडियो चला ली। फिर स्वीटी हम दोनो का लण्ड पकड़कर सहलाने लगी। फिर स्वीटी मेरे ऊपर आकर मेरा लण्ड अपनी चुत में लेकर बैठ गई और फिर उधर वो पंकज का लण्ड मुँह में लेकर चुसने लगी। फिर हम तीनों लगभग एक साथ ही झड़े। तब वीडियो में लड़का लड़की को गोद मे उठाकर चोद रहा था तो फिर स्वीटी भी पंकज को खड़ा करके उसके गले मे हाथ डालकर उससे चिपक गई और फिर पंकज भी स्वीटी के दोनो पैरों को पकड़कर खड़ा हो गया। फिर मै भी तब उनके पास स्वीटी के पीछे जाकर खड़ा हो गया तो फिर स्वीटी नीचे उतरकर हम दोनो के साथ रोमांस करने लगी। उसने हम दोनो से लिप किस किया। फिर मै और पंकज स्वीटी के बदन को सहलाने लगे। फिर स्वीटी पंकज की तरफ पीठ करके खड़ी हो गई और फिर अपनी गाँड से उसका लण्ड रगड़ने लगी। फिर जब पंकज का लण्ड आधा खड़ा हो गया तो तब स्वीटी हँसने लगी। फिर स्वीटी पंकज को लेकर बालकनी में चली गई और फिर वो दोनो तो किसी रोमांटिक कपल की तरह पोज देकर अपनी फोटो खिंचवाने लगे। हालांकि तब आसपास काफी घर थे पर इससे तब उन दोनों को कोई फर्क नहीं पड़ रहा था। 

 

फिर तो हद हो गई स्वीटी रेलिंग के सहारे खड़ी हो गई और फिर पीछे से पंकज स्वीटी की कमर पकड़कर अपना लण्ड उसकी टांगों के बीच डालकर आगे पीछे होने लगा और फिर स्वीटी भी ऐसे एक्टिंग करने लगी जैसे पंकज उसकी चुदाई कर रहा हो। फिर स्वीटी भी सिस्कारियाँ लेने लगी। फिर कुछ देर ऐसा करने के बाद स्वीटी जोर से हँसने लगी और फिर वो पंकज के गले लग गई। तब स्वीटी की चुत से पानी निकलने लगा था और वो गर्म हो चुकी थी। फिर हम तीनों कमरे में चले गए और फिर स्वीटी बेड पर लेटकर अपनी चुत सहलाने लगी तो फिर मैंने स्वीटी को घोड़ी बना लिया और फिर उसकी गाँड के छेद को चाटने लगा। फिर मैंने पंकज से भी स्वीटी के गाँड के छेद को चटवाया। फिर तो स्वीटी की चुत से खूब पानी बहने लगा और वो तब काफी गर्म हो चुकी थी। फिर वो तो खुलकर चुदाई के लिए कहने लगी। वो कहने लगी प्लीज अब लण्ड डाल दो रहा नहीं जा रहा। लेकिन फिर मै और पंकज उसे तड़पाने लगे। फिर तो स्वीटी पंकज से लण्ड डालने के लिए कहने लगी और बहुत गंदी गंदी बातें करने लगी। ये देखकर मुझे और पंकज को काफी मजा आ रहा था। फिर इसकी मैंने वीडियो भी बना ली थी। फिर आखिरकार मैंने स्वीटी को घोड़ी बनाकर उसकी चुत में लण्ड डाल दिया और फिर पंकज स्वीटी के आगे खड़ा हो गया तो फिर स्वीटी उसका लण्ड चुसने लगी। फिर मैंने इसकी एक सेल्फी ली। जिसमे स्वीटी के मुंह मे पंकज का लण्ड था। फिर हम तीनों झड़ गए। झड़ने के बाद स्वीटी को काफी आराम मिला। 

 

फिर मैंने स्वीटी की ऐसी वीडियो और फ़ोटो अपने दोस्तों को दिखाई तो उनका लण्ड फट पड़ा। इतना ही नहीं फिर मैंने स्वीटी की उसके पापा के साथ नंगी फ़ोटो दिखाई तो फिर ये देखकर मेरे दोस्त बोले के ये तो फेक है। लेकिन फिर अलग अलग पोज में मैंने और भी फ़ोटो दिखाई तो मेरे दोस्त तो पागल होते होते बचे। फिर दोपहर हो चुकी थी तो फिर सोनिया और अंकल आ गए। फिर सोनिया ने हम सबके लिए खाना बनाया तो फिर खाना खाकर अंकल तो स्वीटी के साथ उसके कमरे में चले गए और मै सोनिया के साथ उसके बैडरूम में। फिर शिल्पा नहीं आने वाली थी तो फिर पंकज भी हमारे साथ आकर लेट गया। फिर मै पंकज के सामने ही सोनिया से सेक्सी बातें करने लगा तो फिर सोनिया भी मुझसे वैसी ही बातें करने लगी। फिर सोनिया पंकज के सामने ही मेरे लण्ड की तारीफ करती हुई कहती हैं के तुम्हारा लण्ड चुदाई के टाइम जब पूरा मेरी चुत में अंदर तक चला जाट है तब बहुत मजा आता है। फिर सोनिया मुझसे कहती है के काश तुम मेरे पति होते और दिन रात बस मेरी चुदाई ही करते रहते। ये सब सुनकर पंकज गर्म होने लगा था। फिर मैंने सोनिया से डांस करने को कहा तो फिर सोनिया बेड से उतरकर डांस करने लगी और डांस भी ऐसा वैसा नहीं बल्कि सेक्सी डांस। वो डांस करते टाइम अपने बोबो और गाँड को खूब हिला हिला कर हमें दिखाते हुए डांस कर रही थी और मै और पंकज ये सब देखकर काफी गर्म हो चुके थे। लेकिन इतना ही नहीं फिर सोनिया बेड पर आकर घोड़ी बन गई और फिर पंकज को अपनी गाँड हिलाकर दिखाने लगी। फिर सोनिया अपनी गाँड अपने दोनो हाथों से खोलकर अपनी चुत और गाँड दिखाने लगी। फिर सोनिया की गाँड का छेद देखकर पंकज देखता ही रह गया क्योंकि वो थोड़ा बड़ा था। फिर पंकज उठकर बैठ गया और फिर अपनी मम्मी के गाँड के छेद को छूकर देखने लगा। 

 

ये सब करके सोनिया को काफी मजा आ रहा था और वो बस हंसे जा रही थी। फिर सोनिया हमारे सामने पैर खोलकर बैठ गई और फिर अपनी चुत में उंगली डालकर अंदर बाहर करते हुए आह आह करने लगी और साथ मे अपने होंठों को काटने लगी। अपनी मम्मी को ऐसे देखकर तो पंकज के लण्ड से पानी की पिचकारी निकल गई। ये देखकर सोनिया हँसने लगी। फिर सोनिया ने पंकज के लण्ड को चाटकर साफ करने लगी और फिर वो पंकज के ऊपर घोड़ी बन गई तो फिर मै पीछे जाकर सोनिया की चुदाई करने लगा। तब सोनिया के बोबे पंकज के मुंह के पास लटक रहे थे तो फिर पंकज अपनी मम्मी के बोबो को चुसने लगे। तब सोनिया पंकज से कहने लगी के तेरे बाप के लण्ड में तो दम हैं नहीं तभी तेरे दोस्त का लण्ड लेना पड़ रहा है। फिर सोनिया बोली के मेरी चुत का भोसड़ा बना दो आज। पर ये सब सुनकर पंकज को कोई खास फर्क नहीं पड़ रहा था। फिर सोनिया सीधी होकर लेट गई और अपने दोनो पैरों को ऊपर कर लिया और फिर पंकज से कहकर अपनी चुत चटवाने लगी। फिर चुत चाटने के बाद जब मैंने पंकज से मेरे लण्ड को गीला करने के लिए कहा तो फिर उसने मेरा लण्ड मुँह में ले लिया। फिर मै सोनिया की चुत मारने लगा और फिर चुत में ही झड़ गया। फिर सोनिया की चुत से मेरा पानी बाहर आने लगा तो फिर सोनिया ने फिर से पंकज से अपनी चुत चटवाई। 

 

हम तीनों को काफी मजा आया और फिर हम तीनों साथ मे लेट गए। फिर पंकज ने सोनिया से कहा के मम्मी आप आज की तरह ही खुलकर रहा करो। जो मन मे आया वो बोल दिया और जैसा मन किया वैसा किया। ये सुनकर सोनिया काफी खुश हुई। फिर उसने पंकज को अपने सीने से लगा लिया। फिर कुछ देर आराम करने के बाद सोनिया को मै पंकज और स्वीटी की वीडियो और फ़ोटो दिखाने लगा तो ये देखकर फिर सोनिया भी पंकज के साथ अपनी वैसी ही फ़ोटो खिंचवाने के लिए कहने लगी तो फिर वो दोनो बेड पर घुटनो के बल खड़े हो गए और फिर पंकज ने अपनी मम्मी को अपनी बाहों में ले लिया। फिर पंकज सोनिया के बोबो को दबाने लगा और चुत भी सहलाने लगा। फिर सोनिया भी अपने बेटे के बदन को चूमने लगी। फिर पंकज सोनिया को घोड़ी बना लेता है और फिर वो दोनो चुदाई की ऐसी एक्टिंग करते। जिससे सच मे ऐसा लग रहा था जैसे के वो दोनो बहुत मस्ती से चुदाई कर रहे हो। फिर पंकज सोनिया की गाँड पर थप्पड़ मारता है और फिर सोनिया भी ऐसे पोज बनाकर पंकज के साथ फोटो खिंचवाती है के पूछो मत। फिर मेरे कहने पर पंकज अपनी मम्मी से कहता है के सोनिया डार्लिंग तुम बहुत सेक्सी हो। तुम्हारी चुत और गाँड चोदकर तो मजा ही आ जाता है। फिर ये सब सुनकर सोनिया का तो हंस हंस कर बुरा हाल हो जाता। इसकी मै रिकॉर्डिंग भी कर लेता हूँ। 

 

फिर सोनिया अपने बेटे के गले लग जाती है। फिर पंकज सोनिया को अपनी गोद मे लेकर बेड तक लाता है और फिर बेड पर पटक देता है। फिर सोनिया पंकज से अपने बदन के हर अंग को चटाती है। फिर सोनिया अपने बेटे को लण्ड को पकड़कर चुत पर रगड़ने लगती है और फिर उसपर अपनी चुत रखकर रगड़ने लगती है। तब सोनिया अपने बेटे के ऊपर बैठी होती है औए फिर पंकज भी सोनिया की कमर को पकड़कर आगे पीछे करता है। फिर पंकज झड़ जाता है तो उसके लण्ड का पानी सोनिया की चुत पर लग जाता है फिर सोनिया घोड़ी बन जाती है तो फिर मै सोनिया की चुत और गाँड की चुदाई करता हूँ। फिर शाम होने वाली होती है तो फिर मै और पंकज उठकर कमरे से बालकनी में चले जाते है और फिर सोनिया को बालकनी में बुलाते है तो वो थोड़ी डर जाती है लेकिन फिर जब मैंने उसे पंकज और स्वीटी की बालकनी की वीडियो दिखाई तो फिर वो देखती ही रह गई। फिर वो बालकनी में आ जाती है और फिर पंकज उसे अपनी बाहों में ले लेता है और फिर सोनिया को मै भी अपनी बाहों में ले लेता हूँ। तब नीचे हम देखते है तो नीचे लोग होते है और इधर सोनिया हमारे साथ रोमांस कर रही होती है। फिर तो मैं और पंकज मिलकर सोनिया के खूब मजे लेते है। वहीं फिर हमारे सामने की बिल्डिंग के कुछ लोग भी बालकनी में होते है तो जब सोनिया ये देखती है तो फिर वो अंदर चलने के लिए कहती है लेकिन फिर भी मै और पंकज सोनिया को बारी बारी से अपनी बाहों में लेकर उसके बदन को सहलाते रहते है। फिर सोनिया भी सब शर्म छोड़कर हमारा साथ देती है। 

 

फिर कुछ देर बाद हम तीनों जब स्वीटी के कमरे में जाते है तो देखते है के अंकल स्वीटी की चुत चूस रहे थे। फिर ये देखकर हम तीनों मुस्कुराने लगते हैं और उन्हें देखने लगते है। फिर जब स्वीटी झड़ जाती है तो फिर मेरे कहने पर सोनिया और पंकज स्वीटी और अंकल के साथ जाकर लेट जाते है और फिर तब स्वीटी अपने पापा का लण्ड सहलाने लगती है और सोनिया पंकज का। फिर मै उन चारों की एक फोटो खींच लेता हूँ। फिर स्वीटी सभी को खड़ा करके फिर अपने परिवार के साथ कई सारी फ़ोटो खिंचवाती है। फिर स्वीटी और सोनिया दोनो अपनी नंगी फ़ोटो खिंचवाती है। फिर इसी तरह मस्ती करते करते रात हो जाती है तो फिर सोनिया तो खाना बनाने चली जाती है तो फिर स्वीटी मुझे, अपनी भाई और अपने पापा को बेड पर बैठा लेती है। फिर हम तीनों स्वीटी के बदन को सहलाने लगते है। फिर स्वीटी अपने भाई और पापा के साथ अपनी फोटो खिंचवाने लगती है। फिर स्वीटी दोनो का लण्ड पकड़कर सहलाती है और फिर चुस्ती है। फिर इतना ही नहीं फिर स्वीटी घोड़ी बन जाती है तो अंकल तो पीछे से स्वीटी की गाँड में लण्ड रगड़ने लगते है और आगे से वो पंकज का लण्ड चुसने लगती है। फिर स्वीटी अपने भाई और पापा के साथ कई सेक्सी पोज में फ़ोटो खिंचवाती है। फिर मै तो अंकल और पंकज के सामने ही स्वीटी की चुत में लण्ड डालकर चुदाई करने लग जाता हूँ और फिर उधर वो दोनो शिल्पा के साथ वीडियो कॉल पर बात करने लग जाते है। फिर खाना बन जाता है तो फिर खाना खाकर हम सब कमरे में चले जाते है। 

 

फिर पंकज और अंकल के कहने पर शिल्पा आ जाती है। फिर हम सब बातें करने लगते है। फिर अंकल और पंकज तो शिल्पा की चुदाई करने लगते है और मै स्वीटी और सोनिया से। फिर मैंने स्वीटी और सोनिया से पूछा के क्या वो दूसरे मर्दो के सामने नंगी हो सकती है तो फिर स्वीटी ने तो झट से हाँ कह दिया और फिर सोनिया ने भी कुछ सोचकर हाँ कह दिया। फिर स्वीटी और मैंने सोनिया को बताया के स्वीटी को मेरे सब दोस्त नंगी देख चुके है तो ये सुनकर सोनिया थोड़ी हैरान हो गई। फिर स्वीटी ने मुझसे सोनिया की भी नंगी फ़ोटो अपने दोस्तों को दिखाने के लिये कहा तो फिर ये सुनकर सोनिया हँसने लगी। लेकिन सोनिया ने कहा कुछ नहीं। फिर स्वीटी सोनिया से पूछने लगी के जब लोग आपको नंगी देखेंगे तो वो क्या सोचेंगे आप के बारे में। वो आपको देखकर लण्ड हिलाएंगे और मन ही मन मे आपकी चुदाई करेंगे। स्वीटी के मुंह से ये सब सुनकर वो गर्म हो गई। फिर स्वीटी ने अपनी मम्मी से कहा के जब आप पूरी नंगी होकर सोसाइटी में सबके सामने जाओगी तो क्या होगा। ये सुनकर सोनिया मन मे ये सोचने लगी तो वो फिर मुस्कुराते हुए अपनी चुत सहलाने लगी। फिर सोनिया ने कहा के उसे भी दूसरे मर्दो के सामने नंगी होना हैं तो ये सुनकर मै और स्वीटी मुस्कुराने लगे। फिर स्वीटी सोनिया के ऊपर जाकर लेट गई तो फिर मै उन दोनों के पीछे चला गया और फिर उन दोनों की चुत मारने लगा। स्वीटी सोनिया के ऊपर उल्टी लेटी हुई थी तो मै बारी बारी से उन दोनों की चुत मार रहा था। फिर चुदाई के बाद ये बात हमने सबको बताई तो फिर शिल्पा ने कहा के मैं तो सोसाइटी के कई मर्दो के सामने नंगी हो चुकी हूं और चुद भी चुकी हूं। ये सुनकर फिर सोनिया ने कहा के वो भी ऐसे नंगी रहना चाहती है। ये सुनकर फिर पंकज और अंकल तो सुनते ही रह गए पर उन्होंने कहा कुछ नहीं। 

 

उधर शिल्पा की नंगी फ़ोटो और वीडियो शिल्पा के बेटे के सामने ही मेरे दोस्त देखते रहते थे। तो शिल्पा का बेटा इसकी जरा भी परवाह नहीं करता था। फिर मैने एक दिन जब अपने दोस्तों को सोनिया की नंगी फ़ोटो दिखाई तो वो सब देखते ही रह गए। मैंने उन्हें स्वीटी और सोनिया की एक साथ काफी नंगी फ़ोटो दिखाई। जिन्हें देखकर वो देखते ही रह गए। फिर स्वीटी के साथ पंकज की फ़ोटो दिखाने के बाद तो फिर सब दोस्त पंकज से स्वीटी के बारे में सेक्सी बातें करने लगे थे। जिससे पंकज अब खुल चुका था। फिर जब उन्होंने सोनिया की फ़ोटो देखी तो सबने कहा के आंटी तो बहुत मस्त है। इसके बाद जब मैंने और पंकज ने सोनिया को बताया के हमारे दोस्त उसके बारे में क्या क्या कहते है तो ये सुनकर उसे बहुत मजा आने लगा था। फिर घर पर कोई डिलीवरी वाला आता या दूधवाला या सब्जी वाला भी आता तो फिर सोनिया उनके सामने नंगी ही चली जाती। ये सब देखकर पंकज तो देखता ही रह जाता। फिर तो पंकज के साथ सोनिया की नंगी फ़ोटो मैंने दोस्तो को दिखाई और फिर एक वीडियो दिखाई जिसमे सोनिया पंकज का लण्ड पकड़कर सहला रही थी और फिर जब पंकज झड़ने लगा तो फिर सोनिया उसका लण्ड चुसने लगी। ये वीडियो देखकर तो सब देखते ही रह गए। फिर मैंने पंकज और सोनिया की कई फ़ोटो दिखाई जिसमे वो अलग अलग पोज में चुदाई कर रहे थे। फिर ये देखने के बाद तो सब देखते ही रह गए। फिर मैंने पंकज, सोनिया और स्वीटी की एक साथ बिस्तर में फ़ोटो दिखाई। इसके अलावा मैंने मेरे साथ भी सोनिया की फ़ोटो सबको दिखाई। हालांकि ये फोटो बस मैंने सबको अपने फोन में ही दिखाई थी। फिर एक दिन दिन के समय शिल्पा आई हुई थी तो फिर उस दिन सोनिया शार्ट ड्रेस पहनकर शिल्पा के साथ उसके घर जाने लगी। 

 

इतने कम कपड़े पहनकर सोनिया दिन में सबके सामने पहली बार जा रही थी। फिर शिल्पा सोनिया को लेकर सोसाइटी में कई जगह गई। तब सब सोनिया को देखते ही रह गए। तब मै और पंकज भी उनके पीछे पीछे घूम रहे थे। फिर शिल्पा सोनिया को अपने घर लेकर चली गई और फिर हम दोनो भी उनके घर चले गए। तब उस दिन सोनिया काफी खुश हुई। तब शिल्पा के घर पर शिल्पा का बेटा था। फिर शिल्पा और सोनिया नंगी हो गई और फिर मै, पंकज और शिल्पा का बेटा भी नंगा हो गया। फिर शिल्पा का बेटा पंकज के सामने ही सोनिया के बदन को सहलाने लगा और फिर पंकज शिल्पा का। फिर मैंने उन चारों की एक फोटो खींची जिसमे वो एक दूसरे के साथ थे। तब सोनिया को काफी मजा आ रहा था। फिर हम सब गर्म हो गए तो फिर पंकज तो शिल्पा की चुदाई करने लगा और मै सोनिया और शिल्पा के बेटे की। फिर वापिस आते टाइम शिल्पा ने सोनिया को थोड़ी और छोटी शार्ट ड्रेस पहना दी। जिसमें सोनिया के बोबे आधे से ज्यादा दिख रहे थे और नीचे से नंगी जांघे दिख रही थी। फिर जब हम सब वापिस सोनिया के घर गए तो तब हमारे साथ शिल्पा का बेटा भी था। फिर जब स्वीटी ने घर का दरवाजा खोला तो फिर शिल्पा का बेटा तो स्वीटी को देखता ही रह गया। क्योंकि तब स्वीटी नंगी थी। लेकिन स्वीटी शिल्पा के बेटे को देखकर कुछ ज्यादा हैरान नहीं हुई। स्वीटी शिल्पा के बेटे के बारे में सब कुछ जानती थी। फिर स्वीटी ने शिल्पा के बेटे से हाथ मिलाया। शिल्पा के बेटे का नाम मोहन है। फिर शिल्पा, सोनिया और अंकल तो एक साथ बैठकर बातें करने लगे और हम चारो स्वीटी के कमरे में चले गए और फिर नंगे होकर बातें करने लगे। स्वीटी ने हमारे सामने ही मोहन का लण्ड हिलाया और फिर मोहन ने भी स्वीटी के बदन को सहलाया। फिर स्वीटी भी मोहन की फ्रेंड बन गई और फिर स्वीटी ने मोहन के साथ अलग अलग पोज में अपनी कई फ़ोटो खिंचवाई। तब मोहन काफी खुश था। फिर मोहन और स्वीटी मेरा और पंकज का लण्ड चुसने लगी। स्वीटी ने मोहन का लण्ड भी चूसा। फिर मोहन और स्वीटी घोड़ी बन गई तो पंकज मोहन की गाँड मारने लगा और मै स्वीटी की चुत। फिर चुदाई के बाद हम सब एक साथ लेट गए। तब स्वीटी ने हम तीनों के साथ सेल्फी ली। फिर उधर शिल्पा, सोनिया और अंकल भी हमारे कमरे में आ गए तो हम सबने मिलकर एक दूसरे से काफी मस्ती की। 

 

फिर तो मै, पंकज और स्वीटी शिल्पा के घर जाकर भी मस्ती करने लगे। फिर शिल्पा का बेटा मोहन तो कई कई दिन तक स्वीटी के घर ही रहने लगा था। तब हम सब आपस मे खूब मस्ती करते। फिर एक बार जब मै, पंकज और मोहन अपने दोस्तों से मिले तो मोहन ने सबको स्वीटी और सोनिया के साथ अपनी नंगी फ़ोटो दिखाई तो सब देखते ही रह गए। तब पंकज भी वहीं था तो फिर पंकज के सामने ही सब स्वीटी और सोनिया की नंगी फ़ोटो देख रहे थे। फिर मोहन और पंकज ने अपने दोस्तों से कहा के अगर वो भी हमारे साथ मस्ती करना चाहते है तो उन्हें भी अपनी मम्मी या बहन में से किसी एक को अपने साथ लाना होगा। फिर ये सुनकर हमारे दोस्तो ने कहा के वो ट्राय करेंगे। उनमें से कइयों की गर्लफ्रैंड थी तो फिर वो अपनी गर्लफ्रैंड के बदले मस्ती करना चाहते थे तो मोहन और पंकज ने मना कर दिया। फिर स्वीटी भी शार्ट ड्रेस पहनकर ही बाहर जाने लगी। तब वो काफी सेक्सी लगती थी। घर के अंदर बंद कमरे में नंगे होकर मजा करना एक अलग बात थी तो फिर एक दिन स्वीटी अपने पापा के साथ शार्ट ड्रेस पहनकर बाहर गई। तब अंकल को भी मजा आया। फिर एक दिन मै स्वीटी को अपने दोस्तों से मिलवाने ले गया। तब पंकज और मोहन भी मेरे साथ थे। तब सब स्वीटी से मिलकर काफी खुश हुए। तब स्वीटी काफी सेक्सी लग रही थी। तब हम सब एक खाली पड़े गैराज में मिलते थे। तब हम घर से ही फोटोशूट का मन बनाकर आये थे। ताकि इस बहाने स्वीटी सबको अपने जलवे दिखा सके। फिर स्वीटी ने पहले तो वैसे ही अपनी फोटो खिंचवाने लगी। लेकिन फिर उसने मोहन से गाड़ी में रखी अपनी कुछ बिकिनी मंगवाई। फिर स्वीटी बिकिनी लेकर कुछ कारे खड़ी थी उनके पीछे चली गई। तब हमें स्वीटी की बस गर्दन दिख रही थी और फिर स्वीटी ने अपनी ड्रेस उतारकर कार की छत पर रख दी और फिर एक बिकिनी पहनने लगी। तब हमारे सब दोस्त उसे बड़े गोर से देख रहे थे। फिर जब स्वीटी बिकिनी पहनकर हमारे सामने आई तो सब देखते ही रह गए। फिर स्वीटी अलग अलग पोज देकर फ़ोटो खिंचवाने लगी। तब सब काफी गर्म हो चुके थे। फिर एक दो दोस्त तो थोड़ा दूर जाकर अपना लण्ड भी हिलाने लगे थे स्वीटी को देखकर। फिर उधर किसी ने मजाक में मोहन की पेंट खींच दी तो वो फिर नंगा हो गया तो फिर सब हँसने लगे। लेकिन फिर मोहन पूरा नंगा ही हो गया। 

 

फिर स्वीटी ने मुझे बुलाया तो मै सब कपड़े खोलकर बस अंडरवियर में ही स्वीटी के पास चला गया तो फिर स्वीटी सबके सामने मेरे बदन से चिपक कर फ़ोटो खिंचवाने लगी। मै भी सबके सामने बिकिनी के ऊपर से ही स्वीटी के बोबो और गाँड को सहलाने लगा था। तब माहौल काफी गर्म होता जा रहा था। फिर उधर मेरे कुछ दोस्त जो अपना लण्ड हिला रहे थे तो फिर मोहन उन्हें पकड़कर हमारे सामने ले आया और फिर उन्हें नंगा कर दिया। ये देखकर हम सब हँसने लगे। फिर स्वीटी ने मेरे अंडरवियर को भी नीचे खींच दिया और फिर वो हँसने लगी तो फिर मैंने अपना अंडरवियर पूरा ही निकाल दिया। फिर मै स्वीटी के साथ नंगा ही खड़ा होकर फ़ोटो खिंचवाने लगा। उधर मेरे सब दोस्त एक दूसरे की पेंट खींचकर सब एक दूसरे को नंगा करने में लग गए थे। फिर स्वीटी ने मोहन को बुलाया फिर उसके साथ अपनी कुछ फोटो खिंचवाई। फिर स्वीटी ने पंकज को भी अपने पास बुला लिया। तब पंकज अंडरवियर में था तो फिर मोहन ने उसकी अंडरवियर नीचे कर दी तो फिर वो भी नंगा हो गया। फिर स्वीटी पंकज से चिपक कर खड़ी हो गई। फिर स्वीटी को दूसरी बिकिनी पहनने जाने लगी तो फिर मै भी उसके साथ चला गया। फिर स्वीटी अपनी बिकिनी खोलकर मुझसे चिपक गई और फिर मै उसके बदन को सहलाने लगा। फिर थोड़ी देर मस्ती के बाद स्वीटी ने दूसरी बिकिनी पहन ली और फिर हम सबके सामने चले गए। तब उस बिकिनी में तो स्वीटी और भी ज्यादा सेक्सी लग रही थी। फिर स्वीटी फ़ोटो खिंचवाते खिंचवाते सबके सामने मेरा लण्ड पकड़ कर खड़ी हो गई। फिर ये देखकर सब चिल्लाने लगे। तब तक मेरे लगभग सभी दोस्त नंगे हो चुके थे। फिर स्वीटी उन सबको नंगा देखकर हँसने लगी। फिर स्वीटी उनके साथ अपनी सेल्फी लेने लगी। 

 

मेरे सब दोस्त स्वीटी को नंगी देख चुके थे ये बात स्वीटी भी जानती थी तो और तब मेरे सब दोस्त नंगे हो चुके थे तो फिर स्वीटी ने सबसे कहा के आप तो सब लोग मुझे पहले ही नंगी देख चुके हो और अब आप सब भी मेरे सामने भी नंगे हो चुके हो तो फिर ये कहकर स्वीटी ने पहले अपनी ब्रा खोली और फिर पैंटी। फिर स्वीटी को नंगी देखकर तो सब अपना लण्ड हिलाने लगे। फिर स्वीटी ने सबके साथ अपनी नंगी सेल्फी ली। फिर स्वीटी ने कहा के मैं आगे भी नंगी हो जाऊंगी अगर कोई मेरी फ़ोटो वायरल नहीं करेगा तो फिर सब इस बात पर सहमत हो गए। फिर हम सब जानते थे के फोटो वायरल हुये बगैर नहीं रह पाएगी। फिर सबके सामने पंकज ने स्वीटी को अपनी बाहों में ले लिया। फिर मै सबके सामने स्वीटी के बोबो और चुत को सहलाने लगा। तब सब को लण्ड हिलाता देख स्वीटी जोर जोर से हँसने लगी। फिर इस सबकी हमने वीडियो बनाई और फ़ोटो भी ली। फिर स्वीटी पंकज और मोहन का लण्ड हिलाने लगी और फिर वो भी झड़ गए। फिर स्वीटी सबके सामने मेरा लण्ड चुसने लगी और फिर मै वहीं स्वीटी की चुदाई करने लगा। फिर कुछ देर बाद हम झड़ गए। फिर सबने स्वीटी की काफी तारीफ की और उसे दूसरी सनी लियोनी बताया। फिर मेरे कुछ दोस्त भी सबके सामने अपनी गर्लफ्रैंड से ऐसे ही मस्ती करने की बात करने लगे। पर मुझे पता था उनमें से किसी की भी गर्लफ्रैंड ऐसे सबके सामने नंगी होकर मस्ती करने के लिए तैयार नहीं होगी। फिर मै, स्वीटी, पंकज और मोहन के साथ घर आने लगे। तब हम चारो काफी खुश थे। फिर तब स्वीटी कार में नंगी ही बैठी थी और वो घर तक नंगी ही बैठकर गई। फिर जब हम घर पहुंचे तो तब शाम हो चुकी थी। तब आसपास कोई नहीं था तो फिर मैंने स्वीटी से घर का मैन गेट खोलने के लिए कहा तो तब फिर स्वीटी नंगी ही कार से उतरकर घर का मैन गेट खोलने लगी। 

 

तब स्वीटी काफी सेक्सी लग रही थी। फिर गेट खोलने के बाद पंकज कार अंदर ले गया। फिर हम सब घर के अंदर गए और फिर तब सोनिया, शिल्पा और अंकल बैठे थे। फिर उन्हें हमने सारी बात बताई और फिर हमने उन्हें फ़ोटो और वीडियो दिखाये तो ये सब देखकर सोनिया और शिल्पा तो देखती ही रह गई। उधर फिर अंकल ने स्वीटी को अपनी बाहों में लेकर उससे लिप किस करने लगे और उसकी खूब तारीफ की। फिर मै, पंकज, मोहन और अंकल स्वीटी को लेकर उसके कमरे में चले गए। फिर हम सब स्वीटी के बदन को सहलाने लगे। फिर स्वीटी घोड़ी बन गई तो फिर अंकल, पंकज और मोहन स्वीटी की गाँड चाटने लगे। फिर स्वीटी में मोहन को घोड़ा बनाया और फिर वो उसकी गाँड चाटने लगी और फिर पंकज का लण्ड पकड़कर उसकी गाँड में डाल दिया। फिर उधर अंकल ने मेरा लण्ड स्वीटी की चुत में डाल दिया। फिर हम चुदाई करने लगे। उस दिन अंकल काफी गर्म हो गए थे तो फिर चुदाई के बाद अंकल ने स्वीटी को अपनी बाहों में लेकर उससे सेक्स करने को कहा तो फिर स्वीटी मुस्कुराने लगी और अंकल के गले लग गई। फिर हम सब कमरे से बाहर आ गए तो फिर स्वीटी ने अंकल को वियाग्रा दे दिया। उधर सोनिया और शिल्पा को स्वीटी ने बता दिया के आज उसके पापा उसकी चुदाई करने वाले है तो वो दोनो भी गर्म हो गई। फिर रात को खाना वगैरह खाने के बाद स्वीटी नहाकर मेकअप वगैरह करके अच्छे से तैयार हुई और फिर उसे हम सब देखते ही रह गए। तब वियाग्रा के कारण अंकल का लण्ड खड़ा हो चुका था। फिर वो दोनो हमारे सामने ही रोमांस करने लगे। अंकल ने स्वीटी के बदन के हर हिस्से को चूमा। फिर अंकल ने स्वीटी को सीधा करके लेटाया और फिर उसकी चुत पर अपना लण्ड सेट कर दिया। इस सबकी मै फ़ोटो और वीडियो बना रहा था। फिर अंकल ने धक्का मारा तो अंकल का पूरा लण्ड स्वीटी की चुत में चला गया। फिर अंकल मस्ती से स्वीटी की चुदाई करने लगे। स्वीटी भी अपने पापा का पूरा साथ दे रही थी। फिर अंकल स्वीटी की चुत में ही झड़ गए और फिर स्वीटी की चुत से अंकल के लण्ड का पानी बाहर आने लगा। फिर अंकल और स्वीटी एक दूसरे को देखकर मुस्कुराने लगे। फिर वो दोनो एक दूसरे से चिपक कर लेट गए। 

 

तब अंकल का लण्ड खड़ा ही था तो फिर स्वीटी अपने पापा का लण्ड अपनी चुत में लेकर बैठ गई और ऊपर नीचे होने लगी। फिर अंकल ने स्वीटी को घोड़ी बनाकर भी चोदा। फिर उन्हें छोड़कर मै, सोनिया, पंकज और मोहन और शिल्पा दूसरे कमरे में चले गए। जहां पंकज शिल्पा की चुदाई करने लगा और मै और मोहन सोनिया की। फिर हम एक साथ ही लेट गए। फिर सुबह जब उठे तो तब स्वीटी और अंकल कमरे से बाहर निकले तो दोनो एक दूसरे को देखकर मुस्कुरा रहे थे। तब अंकल का लण्ड आधा खड़ा था। फिर हमने जब स्वीटी से पूछा के कितनी बार चुदाई की तो स्वीटी ने कहा के 4 से 5 बार। ये सुनकर हम सब हँसने लगे। फिर स्वीटी ने गर्भनिरोधक पिल ले ली ताकि वो प्रेग्नेंट ना हो जाये। उधर फिर मैंने स्वीटी और अंकल की चुदाई की वीडियो और फ़ोटो के स्टेटस लगा दिए तो सब ये देखकर काफी गर्म हो गए। फिर इतना ही नही स्वीटी तो अब रोज ही अपनी नंगी फ़ोटो और वीडियो के स्टेटस लगाने लगी। अब स्वीटी की चर्चा हर तरफ होने लगी थी। उधर फिर स्वीटी अब शिल्पा और सोनिया के साथ भी सेक्सी ड्रेस पहनकर फ़ोटो लगाने लगी थी। फिर उधर जब स्वीटी की मेरे दोस्तों के सामने नंगी होकर मस्ती करने वाली बात मेरी मम्मी को बताई तो वो भी काफी खुश हुई। फिर वो बोली के मुझे भी अपने साथ शामिल कर लो। ये सुनकर हम काफी खुश हुए। फिर मैंने पंकज और मोहन को अपने घर बुलाया और फिर मेरी मम्मी उनके सामने नंगी ही चली गई तो वो तो देखते ही रह गए थे। मेरी मम्मी काफी सेक्सी थी। फिर वो दोनो मम्मी के बदन को सहलाने लगे। फिर मम्मी उन दोनों को लेकर कमरे में चली गई तो फिर पंकज तो इतना गर्म हो गया के वो तो मम्मी की चुत में लण्ड डालने से पहले ही झड़ गया। फिर मम्मी ने उसका लण्ड दुबारा खड़ा किया और फिर उसने मम्मी की अलग अलग पोज में चुदाई की। उधर मैंने भी स्वीटी की चुदाई की। फिर मम्मी और स्वीटी ने सेक्सी शार्ट ड्रेस पहनी और फिर हम सब स्वीटी के घर चले गए तो अंकल तो मेरी मम्मी को देखते ही रह गए। फिर हम सब नंगे हो गए तो उन्होंने भी मम्मी के बदन को खूब सहलाया। 

 

फिर तो हम सब मेरे घर पर जाकर भी खूब मस्ती करने लगे। फिर मैंने और मम्मी ने जब सबको बताया के हमने होटल में कैसे कैसे मस्ती की तो सब सुनते ही रह गए। उधर फिर एक दिन अखबार में उस होटल की ऐड आई जिसके लिए मम्मी ने फोटोशूट करवाया था। तब उस ऐड में मम्मी की बिकिनी में फ़ोटो थी। इसके अलावा उस होटल के बड़े बड़े होर्डिंग्स पूरे शहर में लग चुके थे और उनमें मम्मी की फ़ोटो थी। पर हर कोई मम्मी को पहचान नहीं सकता था उनमें। पर गौर से देखने पर जरूर पहचान सकते थे। फिर ये सब देखकर हम सब काफी खुश हुए। फिर उधर जब ये सब पापा को पता चला तो वो भी मम्मी को देखते ही रह गए और फिर नेहा ने भी मम्मी की काफी तारीफ की। फिर सीमा का फोन आया और उसने मम्मी को बताया के सब इससे काफी खुश है। कुछ और भी लोगो के उनके पास फ़ोन आये और वो मम्मी के बारे में पूछ रहे थे। उन्हें भी कोई मम्मी जैसी ही मॉडल चाहिए थी। ये सब सुनकर मम्मी बहुत खुश हुई। फिर इस खुशी में मम्मी ने घर पर एक छोटी सी पार्टी रखी। जिसमें उनकी फ्रेंड्स, स्वीटी, सोनिया, शिल्पा और मै, पंकज और मोहन शामिल हुए। उस दिन मम्मी के नंगी फ़ोटो के पोस्टर हमने पूरे घर मे लगा दिए थे। पार्टी में मम्मी काफी खूबसूरत लग रही थी। फिर पार्टी में मै, पंकज और मोहन ने अपनी अपनी मम्मी के साथ नंगे फ़ोटो खिंचवाए। फिर स्वीटी ने भी हम तीनों के साथ फोटो खिंचवाई। फिर पहले तो मैंने शिल्पा के साथ मोहन की फ़ोटो अपने दोस्तों के लिए व्हाट्सप्प पर स्टेटस लगाया। फिर मैंने पंकज और सोनिया की एक सेक्सी सी फ़ोटो लगाई। जिसमे सोनिया ने पंकज का लण्ड पकड़ रखा है और वो दोनो हंस रहे है। फिर मैंने मेरी मम्मी के साथ बेड पर एक फोटो खिंचाई। जिसमे हम दोनो नंगे चद्दर ओढ़कर लेटे है। फिर ये फोटो देखकर तो सब दोस्त देखते ही रह गए। तब पार्टी में टोटल 8 से 10 लेडीज थी तो फिर हमने उन्हें हमारी तरफ पीठ करके खड़ा करवा दिया और फिर मैंने, पंकज और मोहन ने उनके साथ सेल्फी ली। तब ये फोटो देखकर हमारे दोस्त कहने लगे ये कहाँ की फ़ोटो है और ये इतनी सारी औरतें कौन है तो हमने उन्हें कुछ नहीं बताया। 

 

फिर एक दिन फोटोग्राफर का फोन आया। उसने बताया के उसने मम्मी की फ़ोटो किसी डायरेक्टर को दिखाई तो फिर वो अब मम्मी को अपनी फिल्म में लेना चाहता है। ये सुनकर तो मम्मी बहुत ज्यादा खुश हुई। फिर मम्मी ने उसे कहा के मैं सोचकर बताऊंगी। फिर उधर पापा और नेहा ने मालदीव घूमने जाने का प्लान बनाया तो फिर उन्होंने हम दोनो को भी अपने साथ चलने के लिए कहा तो फिर हम सब मालदीव चले गए। वहां हमारा एक प्राइवेट सेपरेट 2-3 कमरों का घर ही था। फिर वहां जाते ही पहले मै नंगा हो गया और फिर पापा। पापा अब मम्मी के थोड़ा क्लोज आने लगे थे। फिर एक दिन वो खुले में ही चुदाई कर रहे थे तो फिर नेहा उन्हें दूर खड़ी देख रही थी। फिर मै भी उनके पीछे जाकर खड़ा हो गया। फिर मैंने नेहा से कहा के उन्हें देखकर आप जल रही हो तो फिर वो हँसकर बोली के नहीं। तुम्हारे मम्मी पापा के बीच बहुत प्यार है। मै उनके बीच ऐसे ही आ गई। फिर मैंने नेहा से कहा के पापा आपको बहुत प्यार करते है और मम्मी भी आपको बहुत पसंद करती है। अब आप हमारी फैमिली का हिस्सा हो। ये बात सुनकर नेहा को काफी अच्छा लगा। फिर वो गर्म हो चुकी थी तो फिर वो मेरा लण्ड पकड़कर सहलाने लगी और फिर दूसरे कमरे में जाकर हम चुदाई करने लगे। चुदाई के बाद नेहा काफी खुश हुई। फिर हम दोनो नंगे ही पापा मम्मी के पास चले गए तो हमे नंगे देखकर वो सब समझ गए। फिर हम आपस मे बातें करने लगे। फिर पापा ने मम्मी से और नेहा से दो लण्ड से एक साथ चुदवाने के लिए कहा तो नेहा ने तो मना कर दिया। लेकिन फिर मम्मी तैयार हो गई तो फिर मै और पापा नेहा के सामने मम्मी की चुत और गाँड मारने लगे। तब मम्मी को काफी मजा आया था। फिर ये देखकर नेहा का मन हुआ। लेकिन नेहा ने अभी तक गाँड नहीं मरवाई थी तो फिर पापा और मम्मी में नेहा को गाँड मरवाने के लिए तैयार कर लिया। फिर नेहा का गाँड मारने का मौका मुझे मिला तो फिर मैंने धीरे धीरे नेहा की गाँड में लण्ड डाल दिया और फिर गाँड मारने लगा। नेहा को दर्द हुआ लेकिन फिर उसे मजा आने लगा तो फिर पापा ने उसकी चुत में भी लण्ड डाल दिया। तब नेहा तो सातवें आसमान पर थी और उसे बहुत मजा आ रहा था। फिर इसके बाद तो मैंने और पापा ने नेहा और मम्मी की जमकर चुदाई की। फिर मम्मी ने पापा से फिल्मों में काम करने के लिए पूछा तो पापा ने कहा के तुम्हारी जिंदगी है तुम कुछ भी करो। फिर मम्मी ने पोर्न फिल्मों में काम करने के लिए कहा तो ये सुनकर नेहा बोली के तुम्हे शर्म नहीं आएगी। फिर मम्मी बोली के शर्म कैसी मजा आएगा। 

 

फिर मैंने पापा को स्वीटी के बारे में बताया और उसकी फोटो और वीडियो दिखाए तो पापा और नेहा देखते ही रह गए। फिर पापा ने मुझे स्वीटी से मिलवाने के लिए कहा तो मैंने कहा के मिलवा दूंगा। फिर मालदीव में कई दिन मस्ती करने के बाद हम सब घर आ गए। तब वहां मैंने फिर स्वीटी और उसकी पूरी फैमिली और शिल्पा और मोहन को बुलाया। तब स्वीटी ने तो बिकिनी सारी पहन रखी थी और मम्मी, शिल्पा और सोनिया ने शार्ट ड्रेस पहन रखी थी। फिर हम सब बैठकर बातें करने लगे। फिर हम सब डांस करने लगे तो स्वीटी ने पापा के साथ डांस किया तो स्वीटी ने पापा के साथ काफी डांस किया और उन दोनों ने एक दूसरे को काफी पसंद किया। उधर अंकल ने मम्मी और नेहा के साथ डांस किया। फिर पंकज और मोहन ने भी उनके साथ डांस किया। फिर पापा ने सोनिया और शिल्पा के साथ भी डांस किया। फिर डांस करते करते सब मर्द औरतों के बदन को सहलाने लगे तो सब गर्म हो चुके थे। फिर अंकल तो मम्मी को लेकर कमरे में चले गए और फिर मै सोनिया को और पापा स्वीटी को लेकर एक साथ दूसरे कमरे में चले गए। उधर पंकज और मोहन शिल्पा और नेहा को लेकर चले गए। फिर मैंने और पापा ने मिलकर सोनिया और स्वीटी की चुदाई की। उधर सबने भी चुदाई के खूब मजे लिए। फिर हम जब कमरे से बाहर निकले तो सब लेडीज बिकिनी में और मर्द अंडरवियर में थे। फिर पापा शिल्पा के साथ जाकर बैठ गए और उसके बोबो को बिकिनी के ऊपर से ही सहलाने लगे और उधर अंकल नेहा के बोबो को। फिर पंकज और मोहन मम्मी और सोनिया के बदन को। तब हम सब चुदाई में डूब गए थे। फिर हम सब फिर कमरे के चले गए और चुदाई की। फिर तो हम सब खुल गए। फिर स्वीटी पापा और अंकल के बीच बैठी थी और फिर पापा ने स्वीटी की कमर में हाथ डालकर बैठ गए। फिर स्वीटी भी पापा से चिपक कर बैठ गई। फिर पता नहीं पापा के दिमाग मे क्या आया तो उन्होंने मेरी और स्वीटी की रिश्ते की बात की तो ये सुनकर अंकल और बाकी सब काफी खुश हुए। क्योंकि सब बहुत खुश थे। फिर ये सुनकर स्वीटी ने तो पापा की गाल पर किस कर दिया। फिर सोनिया और मम्मी मिठाई लेकर आई और सबका मुँह मीठा करवाने लगी तो फिर पापा ने सोनिया को और अंकल ने मम्मी को अपने साथ बैठा लिया। फिर अंकल तो मम्मी की ब्रा खोलकर बूब चुसने लगे तो फिर पापा ने सोनिया की ब्रा खोल दी। फिर सब एक दूसरे से मस्ती करने लगे। फिर जब सब घर जाने लगे तो पापा ने जाते जाते सोनिया और शिल्पा की चुदाई की। फिर मम्मी और नेहा सोनिया के साथ उनके घर चली गई और घर पर मै, स्वीटी और पापा ही रह गए। फिर हम तीनों कमरे में चले गए और फिर मै और पापा बारी बारी से स्वीटी की चुदाई करने लगे। स्वीटी को भी हमारे साथ चुदाई करके काफी मजा आया। फिर हम तीनों भी सोनिया के घर चले गए और फिर हम सबने एक साथ खाना खाया। 

 

नेहा और पापा को ऐसे खुल्लम खुल्ला चुदाई करके बहुत मजा आ रहा था। फिर खाने के बाद तो हम सब नंगे होकर चुदाई करने लगे। फिर हमने रात भर चुदाई की। फिर अगले दिन पापा और नेहा चले गए तो फिर मै और मम्मी अपने घर आ गए। फिर अब तो ऐसा होने लगा कि स्वीटी तो मेरे साथ ही रहने लगी और फिर मम्मी स्वीटी के घर चली जाती और सोनिया हमारे घर आ जाती। फिर तो हम किसी के घर भी इकट्ठा हो जाते और चुदाई करते। अब हम सब मजे से रहने लगे और दिन रात सिर्फ मस्ती ही करते। मम्मी, सोनिया, शिल्पा और स्वीटी तो घर के बाहर भी अब सिर्फ शार्ट ड्रेस ही पहनने लगी। तब लोग तो उन्हें देखकर देखते ही रह जाते। अब हमें बंद घर मे नंगे होकर चुदाई करने में मजा नहीं आता था तो फिर धीरे धीरे हम लोगो के सामने मजे करने लगे। शिल्पा तो सोसाइटी में पूरी बदनाम थी। फिर मैंने सोचा के और खुलकर मजे लिए जाए। तो फिर एक दिन रात को मै, पंकज और मोहन शिल्पा को लेकर सोसाइटी में घूमने लगे। तब शिल्पा सिर्फ बिकिनी में थी। तब हम शिल्पा को लेकर सोसाइटी के वॉचमैन के पास ले गए। सोसाइटी में दो वॉचमैन थे। फिर वो तो शिल्पा को देखते ही रह गए। वो दोनो नए थे लेकिन फिर भी उन्हें शिल्पा के बारे में मालूम था। फिर शिल्पा उनके सामने ही अपने बोबो को सहलाने लगी और हँसने लगी और अपनी पैंटी नीचे खिसकाने लगी। ये देखकर तो वो दोनो फुल गर्म हो गए। तब रात काफी हो चुकी थी और वहां हमारे अलावा कोई नहीं था तो फिर शिल्पा ने अपनी बिकिनी खोल दी और पूरी नंगी होकर खड़ी हो गई। ये देखकर तो हम सब गर्म हो गए। तब शिल्पा खुले में नंगी खड़ी थी। फिर ये देखकर तो हम सब गर्म हो गए। वहीं उन दोनों वॉचमैन का आफिस बना था तो फिर हम शिल्पा को लेकर वहां चले गए और नंगे हो गए। फिर शिल्पा को घोड़ी बनाकर बारी बारी से चुदाई करने लगे। मोहन ने भी शिल्पा की चुदाई की और फिर मोहन ने अपनी गाँड भी मरवाई। फिर चुदाई के बाद वो दोनो वॉचमैन काफी खुश हुए। फिर शिल्पा ने हम सबका का लण्ड चूसकर फिर से खड़ा कर दिया तो फिर हमने फिर से चुदाई की। हम सबने कंडोम लगाकर चुदाई की थी तो फिर वहां 8 - 10 कंडोम इकट्ठा हो गए। फिर चुदाई के बाद मैंने वॉचमैन से जैसा मै कहूँ वैसा करने के लिए कहा तो वो दोनो झट से तैयार हो गए। फिर हम वापिस आने लगे तो शिल्पा पूरी नंगी ही वापिस आई। उधर फिर शिल्पा के घर कोई भी आता तो शिल्पा सिर्फ ब्रा पैंटी में ही रहती। यहां तक कि शिल्पा का पति घर पर होता तब भी शिल्पा मोहन और अपने पति के सामने ऐसे ही रहती। शिल्पा का पति और किसी से मजे कर रहा था उसे अब शिल्पा से ज्यादा कुछ मतलब नहीं था। फिर एक दिन सुबह दूधवाला आया तो तब शिल्पा ने नाइटी पहनी थी और नीचे कुछ नहीं पहना था। तब शिल्पा के बूब आधे से ज्यादा दिख रहे थे। तब मै और पंकज कमरे से निकलकर हॉल में आकर सोफे पर बैठ गए। तब हम दोनो नंगे थे। ये देखकर दूधवाला देखता ही रह गया और शिल्पा मुस्कुराने लगी। 

 

फिर दूधवाले को देखकर मै शिल्पा के पीछे आकर खड़ा हो गया और शिल्पा के बोबो पर से नाइटी हटा दी। ये देखकर तो वो देखता ही रह गया। फिर मेरे इशारा करने पर वो शिल्पा के बोबो को चुसने लगा। तब शिल्पा मुस्कुराने लगी। फिर शिल्पा तो उसे रोज ही अपने बोबे चुस्वाने लगी। फिर शिल्पा तो नंगी होकर ही दूध लेने लगी तो वो शिल्पा के पूरे बदन को सहलाने लगा। फिर एक दिन जब दूधवाला आया तो फिर तब शिल्पा नंगी थी और दूधवाले की बाहों में थी। तब ये जब मैंने, पंकज और मोहन ने देखा तो हम गर्म हो गए। फिर उस दिन हमने दूधवाले को घर के अंदर बुला लिया और फिर उसके साथ मिलकर शिल्पा की चुदाई करने लगे। शिल्पा की चुदाई करके दूधवाला खुश हो गया। फिर तो जब दूधवाला आता तो शिल्पा गेट खोलकर झुक कर खड़ी हो जाती तो दूधवाला शिल्पा को वहीं चोदने लग जाता और कभी कभी तो घर के अंदर सोफे पर चुदाई करता और फिर चुदाई के बाद दूध डालकर चला जाता। ऐसा तो लगभग हर रोज होने लगा था। फिर घर पर कोई डिलीवरी वाला, कूरियर वाला या फिर जो कोई भी आता तो फिर शिल्पा उससे चुदवा लेती। इतना ही नहीं फिर सोसाइटी के कुछ लोगो ने शिल्पा की चुदाई करने के लिए मुझसे कहा तो मैंने उन्हें हाँ कर दी। फिर मैंने इस बारे में शिल्पा से बात की तो वो भी तैयार हो गई। फिर चोरी छुपे वो भी शिल्पा के घर जाकर शिल्पा की चुदाई करने लगे। जिस कारण अब शिल्पा दिन और रात चुदवाने लगी। शिल्पा की चुदाई के बाद लोग कंडोम उतारकर डस्टबिन में डाल देते और कुछ दिनों में वो डस्टबिन कंडोम से भर जाता। चुदाई के कारण लोग शिल्पा से किसी भी चीज के पैसे नहीं लेते थे। इस कारण अब शिल्पा को सब कुछ फ्री में मिल जाता था। 

 

शिल्पा की इन हरकतों का जब शिल्पा के पति को पता चला तो फिर उसने शिल्पा से तलाक लेने का फैसला किया तो फिर शिल्पा ने खुशी खुशी तलाक दे दिया। फिर शिल्पा के पति ने शिल्पा को वो फ्लैट और कुछ पैसे दे दिए और फिर वो और कहीं जाकर रहने लगा। अब तो शिल्पा आजाद हो गई थी। फिर हमने कुछ और मस्ती धमाल करने के बारे में सोचा। फिर एक दिन मै, पंकज और मोहन शिल्पा को लेकर सब्जी मंडी चले गए। तब शिल्पा ने एक शार्ट ड्रेस पहनी थी और उसके नीचे कुछ नहीं पहना था। वो ड्रेस पीछे से काफी हद तक खुली थी और नीचे से भी शिल्पा की जांघे साफ दिख रही थी। तब शिल्पा के पास एक हैंडबैग था और उसमें सिर्फ कंडोम थे। आज हम जो भी खर्चा करने वाले थे उसके पैसे शिल्पा को ही चुकाने थे और वो भी बस अपनी चुत से। फिर हम चारो एक रिक्शा लेकर सब्जी मंडी गए। फिर सब्जी मंडी पहुंचकर रिक्शे वाले ने पैसे मांगे तो हम सबने शिल्पा की तरफ इशारा कर दिया और फिर शिल्पा ने हँसकर एक कंडोम निकालकर रिक्शे वाले को दे दिया तो वो ये देखकर हैरान हो गया। तब शिल्पा के बोबे आधे से ज्यादा दिख रहे थे और वो काफी सेक्सी लग रही थी। तो फिर रिक्शेवाले ने रिक्शा एक तरफ लगाया। फिर शिल्पा बाहर निकलकर खड़ी हो गई और पीछे से अपनी ड्रेस उठा ली तो फिर रिक्शेवाला शिल्पा के पीछे आकर खड़ा हो गया और फिर अपनी पेंट खोलकर शिल्पा की गाँड की दरार में अपना लण्ड डालकर सहलाने लगा। फिर उसने अपने लण्ड पर कंडोम चढ़ाया और फिर शिल्पा की चुदाई करने लगा। तब आसपास लोग आ जा रहे थे और इधर शिल्पा चुदवा रही थी। फिर चुदाई करते करते उसने शिल्पा के दोनो बोबो को बाहर निकाल लिया और सहलाने लगा। फिर कुछ देर के बाद वो झड़ गया तो फिर उसने कंडोम निकालकर वहीं फेंक दिया और फिर शिल्पा ने ड्रेस सही की और फिर हम सब्जी मंडी में चले गए। वहां लोग ही लोग थे। 

 

तब काफी लोग शिल्पा को देख रहे थे। फिर हम सब सब्जी मंडी में घूमने लगे। फिर हम एक सब्जी वाले के पास गए और सब्जी लेने लगे। फिर हमने सब्जी ले ली तो उसने हमसे पैसे मांगे तो फिर हमने शिल्पा की तरफ देखा तो फिर शिल्पा सब्जी वाले को देखकर मुस्कुराने लगी और फिर उसकी तरफ पीठ करके खड़ी हो गई और पीछे से अपने बाल हटा लिए तो फिर सब्जीवाला तो शिल्पा की नंगी पीठ देखकर देखता ही रह गया। फिर शिल्पा ने चुपके से उसे कंडोम निकालकर दिखाया और फिर अपने हाथों से उसे चुदाई का इशारा किया तो फिर उसने पीछे की तरफ आने के लिए कहा तो शिल्पा पीछे चली गई। फिर वहां जाते ही वो सब्जीवाला शिल्पा पर टूट पड़ा और फिर वो शिल्पा की चुदाई करने लगा। हम ये सब दूर खड़े होकर देख रहे थे। फिर कुछ देर चुदाई के बाद शिल्पा अपने बाल सही करती हुई वहां से आ गई। तब सब्जीवाला काफी खुश लग रहा था। फिर सब्जी लेकर हम आगे बढ़ गए। फिर हम एक दुसरे सब्जी वाले के पास गए। उसकी दुकान थोड़ी कोने में थी। इस कारण तब वहां कोई ग्राहक नहीं था तब। फिर हमने उससे कुछ सब्जी ली और फिर पैसे देने की बारी आई तो तब मोहन ने शिल्पा के दोनो बोबे बाहर निकालकर छोड़ दिये। ये देखकर सब्जीवाला तो देखता ही रह गया और शिल्पा मुस्कुराने लगी। फिर शिल्पा ने उसकी तरफ कंडोम फेंक दिया तो वो कंडोम हाथ मे लेकर देखने लगा और फिर शिल्पा वैसे ही बूब बाहर निकाले निकाले ही उसके पास चली गई। तब फिर शिल्पा वहीं नीचे ही घोड़ी बन गई और फिर वो शिल्पा की चुदाई करने लगा। फिर चुदाई के बाद शिल्पा खड़ी होकर अपने बाल और ड्रेस वगैरह सही करने लगी पर अपने बोबे अंदर नहीं किये और फिर वो वैसे ही चलने लगी तो फिर पंकज ने उसे याद दिलाया तो फिर शिल्पा हँसने लगी और फिर उसने अपने बोबे अपनी ड्रेस के अंदर किये। फिर हम सब वहां से एक दूसरी सब्जी की दुकान पर गए। वो दुकान बड़ी थी और उसके पास काफी सब्जियां थी। बड़ी दुकान होने के कारण उस सब्जी वाले ने कुछ आदमी भी रख रखे थे। फिर वहां जाते ही मै, पंकज और मोहन तो सब्जी लेने लगे और उधर शिल्पा अपने बदन को दिखाने लगी। शिल्पा को देखकर हम सब गर्म हो चुके थे। तब वहां कुछ औरते भी सब्जियां खरीद रही थी। वो भी शिल्पा को देखती ही रह गई। फिर शिल्पा ने कहा के तुम्हारे पास बस इतनी ही सब्जियां है क्या या पीछे और भी पड़ी है तो फिर वो बोला के पीछे और भी है तो फिर शिल्पा बोली के मुझे दिखाओ। फिर शिल्पा उस सब्जीवाले के पास दुकान के पीछे चली गई। हम भी उनके पीछे पीछे चले गए। तब वहाँ 2-3 और लोग भी थे। फिर शिल्पा वहां घूम घूम कर देखने लगी और फिर गर्मी बहुत है ये कहते हुए शिल्पा ने अपने दोनो बूब्स बाहर निकाल लिए। ये देखकर सब देखते ही रह गए।

 

फिर शिल्पा झुकती तो पीछे से उसकी चुत और गाँड साफ दिखाई देती। इस कारण वो बार बार झुक रही थी। फिर ये देखकर तो हम सब काफी गर्म हो चुके थे। फिर शिल्पा तो अपनी ड्रेस निकालकर खड़ी हो गई। शिल्पा को नंगी देखकर तो सब देखते ही रह गए। फिर मै शिल्पा के पास गया और उसके बदन को सहलाने लगा और फिर शिल्पा को वहां सब्जी की बोरियों के सहारे झुकाकर खड़ा करके उसकी चुदाई करने लगा। फिर मेरे बाद पंकज और मोहन ने भी शिल्पा की चुदाई की। फिर तो वो सब सब्जीवालो ने बारी बारी से शिल्पा की चुदाई की। चुदाई के बाद सब काफी खुश हो गए थे। फिर हमने वहां से खूब सब्जी ली। फिर हमने सब सब्जियां टेम्पो में डाल ली और हम भी टेम्पो में ही बैठ गए और घर जाने लगे। फिर घर आने के बाद टेम्पो वाले ने पैसे मांगे तो शिल्पा ने अपनी चुत और गाँड देकर पैसे चुकाए। फिर हम सब सब्जियां लेकर शिल्पा के घर चले गए। वो सब्जियां काफी ज्यादा थी तो फिर हमने सोसाइटी की बाकी लेडीज को बुलाया जो कि मम्मी और शिल्पा की फ्रेंड्स थी। फिर उन्हें शिल्पा ने बताया के आज मै ये सब सब्जियां बिल्कुल फ्री में लेकर आई हूँ। फिर उन्होंने पूछा के कैसे तो फिर शिल्पा और हमने पूरी बात बताई तो सब सुनकर काफी हैरान हुई। फिर वो सब बोली के ये तो काफी अच्छा तरीका है। अब से हम भी अपने बदन के जलवे दिखाकर ऐसे ही सामान खरीदेंगे। फिर वो सब औरतें थोड़ी थोड़ी सब्जी लेकर चली गई। लेकिन तब भी हमारे पास लगभग एक हफ्ते की सब्जी बच गई थी। जिन्हें शिल्पा ने फ्रिज में रख दिया। फिर शिल्पा ने मुझे थैंक्यू बोला तो मै बोला के किसलिए तो फिर शिल्पा बोली के इतना अच्छा आईडिया देने के लिए। मुझे तो फिक्र हो रही थी के तलाक के बाद मैं घर खर्चा कैसे निकालूंगी। पर अब कोई फिक्र नहीं है। फिर शिल्पा मेरे गले लग गई। 

 

अब शिल्पा ATM हमारे पास था तो फिर हम सब भी काफी खुश हुए। गर्मियां आ चुकी थी तो अब शिल्पा सिर्फ शॉर्ट्स पहनकर ही सोसाइटी में घूमती। फिर शॉर्ट्स पहनते पहनते एक दिन शिल्पा तो ब्रा पैंटी पहनकर ही बाहर सोसाइटी में चली गई। तब सब शिल्पा को देखते ही रह गए। शिल्पा घर पर तो अब नंगी ही रहती। चाहे घर पर कोई भी आये। सोसाइटी में अब लगभग 50 से ज्यादा मर्द हो चुके थे जो कि शिल्पा की चुदाई कर चुके थे। सोसाइटी के कुछ लोगो मे से जो कि शिल्पा की चुदाई करते थे उनकी बीवियों ने हमारे सीक्रेट ग्रुप को जॉइन कर लिया था और फिर वो भी किट्टी पार्टी में खूब मजे करती और मैंने और पंकज ने उनकी चुदाई भी कर ली थी। तब वो सब काफी खुश हुई। इसके बाद तो हम उनके साथ कि गई चुदाई के वीडियो जब अपने दोस्तों को दिखाते तो वो सब देखते ही रह जाते थे। फिर वो हमें उन औरतों से चुदाई के लिए कहते तो फिर मै, पंकज और मोहन उन्हें पहले अपनी मां, बहन चुदवाने के लिए कहते। तो फिर वो अपनी मां, बहन को पटाने की कोशिश करते रहते। फिर वो अपनी मां बहन की किसी तरह नंगी फ़ोटो खींच लेते और वीडियो बना लेते और फिर वो हमें दिखाते। अब हमारे बीच कोई शर्म नहीं बची थी तो हम सब दोस्त एक दूसरे के साथ ऐसी फ़ोटो और वीडियो शेयर करते रहते थे। सोनिया शिल्पा के घर आती जाती रहती थी और शिल्पा के घर सोसाइटी के मर्दों में से कोई न कोई जरूर रहता था। जिस कारण सब सोनिया को भी जानने लग गए थे। 

 

फिर सोनिया शार्ट ड्रेस पहनकर मेरे साथ सोसाइटी में घूमती तो सब देखते ही रह जाते। इतना ही नहीं शिल्पा के घर भी सोनिया सबके सामने मुझसे चिपकी रहती और मै सबके सामने सोनिया से रोमांस करता। तभी वहाँ पंकज भी होता और वो सोसाइटी के मर्दो के साथ मिलकर शिल्पा की चुदाई कर रहा होता और वहीं सोनिया के साथ मैं रोमांस कर रहा होता तो ये देखकर सब देखते ही रह जाते। फिर सोनिया तो सबके सामने ही बिकिनी में ही रहने लगी। सोनिया तो सबके सामने पंकज के साथ भी चिपक कर खड़ी हो जाती थी। तब सब सोनिया से बात करते और उसे पटाने की कोशिश करते। पर सोनिया किसी को भाव नहीं देती थी। सबके सामने ही मै सोनिया के बदन को सहलाता और खूब मजे करता। फिर सब मुझे सोनिया की चुदाई के लिए कहने लगे तो फिर मैंने उन्हें मना कर दिया। फिर इतना ही नहीं मै फिर सोसाइटी के सब लोगो को सोनिया के सेक्सी फ़ोटो दिखाकर उन्हें तड़पाने लगा। फिर सोनिया से लिप किस करते हुए की फ़ोटो और सोनिया के बोबो और गाँड के साथ मुँह लगाकर ऐसी फ़ोटो खींच खींच कर मै सबको दिखाता तो सब देखते ही रह जाते। फिर इतना ही नहीं ऐसी ही सेक्सी फ़ोटो सोनिया की पंकज के साथ देखकर तो सब देखते ही रह गए थे। फिर सोसाइटी के लोग मुझसे सोनिया की चुदाई के बारे में पूछने लगे तो फिर मैंने सोनिया के साथ बिस्तर में एक सेक्सी सी फ़ोटो खींची। फिर वो फ़ोटो देखकर तो सबका बुरा हाल हो गया था। लेकिन कहानी यहीं खत्म नहीं हुई। फिर मैंने सोनिया की एक फोटो पंकज के साथ खींची। जिसमे सोनिया नंगी थी और पंकज ने उसे अपनी बाहों में ले रखा था। तब पंकज भी नंगा ही था। वो फ़ोटो देखकर तो सबके होश उड़ गए। लेकिन ये तो सिर्फ शुरुआत थी। फिर सोनिया तो शिल्पा के घर सेक्सी बिकिनी पहनकर रहने लगी और लगभग सब सोसाइटी के लोग सोनिया को ऐसे देख चुके थे। 

 

फिर सोनिया सुबह शाम बस शॉर्ट्स पहनकर वाक पर जाती तो सबका बुरा हाल हो जाता था। तब सोनिया के साथ मै होता तो सोनिया सबके सामने ही मेरे साथ अपनी सेल्फी लेती और मेरे साथ खूब मजे से रहती। फिर सोनिया ने एक दिन थोंग वाली पैंटी पहनी जिसमे से सोनिया की गाँड बिल्कुल साफ दिख रही थी। तब तो सब सोनिया को देखकर खूब गर्म हो गए और उन्होंने फिर शिल्पा की खूब चुदाई की। तब सोनिया शिल्पा के घर थी। सोनिया सोसाइटी के नंगे मर्दो के सामने घूमती रहती और वो सब सोनिया को देखकर अपना लण्ड हिलाते रहते। फिर सोनिया गर्म हो जाती तो मै सोनिया की दूसरे कमरे में ले जाकर चुदाई कर देता। शिल्पा की चुदाई करने से पहले सोनिया सब मर्दो को कंडोम बांटती और उनके साथ काफी बातें भी करती। फिर एक दिन शाम के टाइम थोड़ा अंधेरा हो चुका था। तब फिर मै, पंकज और सोनिया घर जाने लगे तो तब सोनिया बिकिनी में थी और पैरों में हाई हील सैंडल और कानों में बड़ी बड़ी बालियां। तब सोनिया बहुत ज्यादा सेक्सी लग रही थी। फिर मै और पंकज सोनिया को ऐसे ही लेकर घर जाने लगे तो तब सब सोनिया को देखकर देखते ही रह गए। फिर हम घर पहुंचने वाले हुए तब वहां कोई नहीं था तो फिर मैंने सोनिया को नंगी कर दिया तो फिर वो नंगी ही घर गई। फिर रात को जब हम बिस्तर पर जाकर लेट गए तो फिर हम तीनों नंगे ही थे तो फिर सोनिया ने अपने बोबो पर हाथ रखकर हमारे साथ सेल्फी ली और फिर वो सेल्फी पंकज ने अपने फ़ोन पर स्टेटस लगा दिया तो सब देखकर देखते ही रह गए। अब सोसाइटी में सब सोनिया की ही बातें करने लगे थे। सोनिया को भी इस सबमे बहुत मजा आ रहा था। फिर एक दिन शिल्पा के घर सोनिया ने ट्रांसपेरेंट बिकिनी पहनी तो सब देखते ही रह गए। फिर सोनिया के साथ मैंने एक फोटो डाली जिसमे सोनिया ऊपर से बिल्कुल नंगी थी और वो मेरे साथ बेड पर बैठी थी और मै बिल्कुल नंगा लेटा था और मेरा लण्ड खड़ा था। ये फ़ोटो देखकर सब हैरान हो गए। फिर इतना ही नहीं सोनिया ने अपने बेटे के साथ फोटो खिंचवाई जिसमे वो पीछे से पूरी नंगी थी। फिर एक बार जब हम शिल्पा के घर थे तो तब सोसाइटी के 8 मर्द वहां था और मै और पंकज भी वहां थे तो फिर हमने मस्ती करने के लिए फोटोशूट का प्लान बनाया। फिर सोनिया ने सोसाइटी के मर्दो के साथ अपने काफी फ़ोटो खिंचवाए। उधर शिल्पा ने भी फ़ोटो खिंचवाए। 

 

फिर सोनिया कम्बल लेकर बेड पर जाकर बैठ गई और फिर पंकज सोनिया के पास चला गया। तब सभी मर्द एक दम नंगे अपना लण्ड हिला रहे थे। फिर पंकज ने सबके सामने सोनिया की ब्रा खोली और फिर हमारी तरफ फेंक दी तो फिर सब मर्द सोनिया की ब्रा को लेने के लिए टूट पड़े और फिर वो सोनिया की ब्रा लेकर सूंघने लगे और अपने लण्ड पर लगाकर रगड़ने लगे। ये देखकर सोनिया हँसने लगी। फिर पंकज ने सोनिया की पैंटी उतारकर हमारी तरफ फेंक दी तो फिर सबने वैसा ही किया। फिर पंकज सबके सामने अपनी ही मम्मी के साथ रोमांस करने लगा। तो ये देखकर तो सब देखते ही रह गए। फिर पंकज ने कम्बल के नीचे से ही सोनिया के बोबो को और चुत को सहलाने लगा तो सोनिया सिस्कारियाँ लेने लगी। उधर साथ मे शिल्पा को घोड़ी बनाकर सब बारी बारी से उसे चोदने लगे। फिर इतना पंकज ने सोनिया को लेटाया और फिर उसके बदन को चूमने लगा। फिर वो दोनो लिप किस करने लगे। फिर सोनिया गर्म हो चुकी थी तो फिर मै सोनिया के पास चला गया और पंकज आ गया। फिर मै सोनिया के ऊपर आकर सोनिया की चुदाई करने लगा। फिर सोनिया को मैंने अपने लण्ड पर बैठा लिया और कम्बल सोनिया की कमर पर लपेट दिया और अपने बूब्स सोनिया ने अपने हाथ से ढक लिए। फिर ऐसे हमारी चुदाई देखकर सब देखते ही रह गए और लण्ड हिलाने लगे। फिर सोनिया करवट लेकर लेट गई तब वो पीछे से नंगी थी और आगे कम्बल ले रखा था। फिर मै पीछे से सोनिया की गाँड मारने लगा। इतना ही नहीं फिर मैंने सोनिया को घोड़ी बना लिया और तब सोनिया ने एक हाथ आगे रख रखा था और एक हाथ अपने बोबो पर रख रखा था। फिर मैंने कम्बल सोनिया की कमर पर डाल दिया और पीछे से मै सोनिया की चुदाई करने लगा। फिर सोनिया अपने दोनो हाथ नीचे रख दिये और फिर सबको सोनिया के झूलते बूब्स दिखने लगे। ये देखकर तो सबका बुरा हाल हो गया। पीछे से सोनिया की गाँड नंगी ही थी और मै सोनिया की चुत और गाँड मार रहा था। फिर मै झड़ने लगा तो सारा पानी सोनिया की गाँड में डाल दिया और फिर मैंने लण्ड बाहर निकाला तो सोनिया की गाँड से मेरा पानी बाहर निकलने लगा। 

 

तब सब सोनिया के पीछे ही खड़े थे तो सब सोनिया की गाँड और चुत देख रहे थे। फिर सोनिया पीछे की तरफ मुँह करके हँसने लगी। फिर पंकज जाकर सोनिया की गाँड और चुत चाटने लगा। ये सब देखकर वहां खड़े सभी सोसाइटी के मर्दो ने कई बार अपना लण्ड हिलाया और अब उन सबके लण्ड ढीले पड़े थे। फिर सोनिया उल्टी बिस्तर पर लेट गई और अपने ऊपर से कम्बल उतार दिया तो वो अब पूरी नंगी हो चुकी थी। फिर सोनिया सबसे बातें करने लगी और फिर नंगी ही खड़ी होकर पेशाब करने चली गई। सोनिया को पूरी नंगी देखकर सबके लण्ड फिर से खड़े हो चुके थे। फिर उन्होंने सोनिया से चुदाई के लिए कहा तो सोनिया ने मना कर दिया तो फिर वो बस अपना लण्ड ही हिलाते ही रह गए। फिर सोनिया ने उन सबके साथ अपनी सेल्फी ली और फिर सबने सोनिया के साथ खड़े होकर फ़ोटो खिंचवाई। फिर उस दिन शाम को जब हम पंकज के घर जाने लगे तो फिर अंधेरा हो चुका था तो फिर सोनिया नंगी ही घर गई। तब सोसाइटी के वो 8 लोग भी हमारे साथ थे और फिर जब घर पहुंचने वाले हुए तो तब घर के नजदीक ही 2-3 लोग और भी खड़े थे तो वो सोनिया को देखते ही रह गए। फिर उस दिन के बाद तो सोनिया शिल्पा के घर बिल्कुल नंगी ही रहने लगी। उधर फिर सोनिया ने स्वीटी के साथ सेक्सी पोज में अपनी कुछ फोटो खिंचवाई। तब वो दोनो नंगी थी। तो उन दोनों माँ बेटी को देखकर तो सब देखते ही रह गए। अभी तो असली धमाका बाकी था। फिर मेरी मम्मी भी सोसाइटी में सबके सामने कम कपड़े ही पहनती और फिर मैं मेरी और मम्मी की फ़ोटो सोसाइटी में दिखाने लगा। जिसमे मम्मी बिकिनी में थी और मै नंगा ही था। फिर मम्मी भी शिल्पा के घर जाने लगी और फिर वो भी वहां नंगी ही रहने लगी तो सब मम्मी के फिगर को देखते ही रह गए। अब मै, मोहन और पंकज अपने व्हाट्सप्प स्टेटस पर अपनी अपनी मम्मी के सेक्सी और नंगे फ़ोटो लगाते थे। फिर तो मम्मी सोसाइटी में कहीं भी बिकिनी पहनकर फ़ोटो खिंचवाने लग जाती। तो तब सब मम्मी को देखने के लिए इकट्ठे हो जाते थे। फिर तो एक बार मम्मी अपनी ब्रा पैंटी उतारकर अपने बोबो और चुत पर हाथ रखकर फ़ोटो खिंचवाने लगी। तब तो सब देखते ही रह गए। फिर तो मम्मी ने अपने हाथ भी हटा लिए। तब मम्मी तो एक दम सनी लियोनी ही लग रही थी। तब वहां लगभग 20 से 25 लोग खड़े थे। फिर मम्मी ने सबके सामने काफी सेक्सी पोज दिए तो सब अपना लण्ड मसलते ही रह गए। फिर मम्मी ने एक पोर्न वीडियो शूट करने के लिए बोला तो फिर मैंने उन फोटोग्राफरों को बुलाने के लिए बोला तो मम्मी बोली के नहीं हम सब मिलकर ही कर लेंगे। फिर मै, मम्मी, सोनिया, शिल्पा, स्वीटी, पंकज और मोहन ने मिलकर एक कहानी बनाई और कुछ डायलॉग लिखे और वीडियो का नाम रखा विधवा मां की कुंवारी चुत। जिसमे मै और मम्मी तो माँ बेटा बने और स्वीटी मेरी बहन बनी। 

 

फिर हम शूटिंग करने लगे। हमने शूटिंग के लिए मम्मी की एक फ्रेंड का घर चुना। फिर मै, मम्मी, स्वीटी, पंकज, मोहन और सोसाइटी के ही 3 लोगो को अपने साथ लेकर मम्मी की फ्रेंड के घर चले गए और मम्मी की फ्रेंड कुछ दिनों के लिए हमारे घर पर रहने आ गई। तब हम 6 मर्द थे और फिर वहां आसपास के 4 लोग भी हमने अपने साथ ले लिए और उन्हें हमारी पोर्न वीडियो में काम करने के लिए कहा तो वो झट से तैयार हो गए। फिर शूटिंग शुरू करने से पहले हम सब वहां पास ही बने एक मंदिर में गए और पूजा वगैरह की। तब मम्मी ने तो ऊपर ब्रा और नीचे साड़ी बांध रखी थी और उनके बोबो के उभार बहुत सेक्सी लग रहे थे। उधर स्वीटी ने शार्ट ड्रेस पहन रखी थी। फिर मंदिर से आकर हमने शूटिंग शुरू की। फिर पहला ही सीन मम्मी का था जो कि बेड पर नंगी लेटी थी और अपनी चुत में बैगन डालकर अंदर बाहर कर रही थी और साथ मे सिस्कारियाँ ले रही थी। तब मम्मी को देखकर सब देखते ही रह गए। इतना ही नहीं फिर मम्मी ऊपर से अपने मुंह से बोल रही थी के हाय रे मेरी चुत। इसकी प्यास कैसे बुझाऊँ। इसे कैसे शांत करूँ। फिर वो झड़ गई तो फिर वो साड़ी पहनकर अपने कमरे से बाहर आ गई। फिर वो दूसरे कमरे में गई जहां मै लेटा था। मै तब सिर्फ अंडरवियर में था और मेरा लण्ड खड़ा था और फिर ये देखकर मम्मी वहीं खड़ी होकर अपनी चुत सहलाने लगी। फिर मम्मी ने मुझे जगाया और फिर वो दूसरे कमरे में चली गई। जहां स्वीटी सोई थी और वो तब सलवार सूट में थी। तब उसका हाथ सलवार में था तो ये देखकर मम्मी मुस्कुराने लगी और फिर मम्मी ने उसका हाथ उसकी सलवार से निकालकर उसे उठाया। फिर मै जाकर नहाने लगा तो फिर मेरे नहाते हुए की शूटिंग करने लगे। फिर मै टॉवल लपेटकर बाहर आया तो फिर तब वहां मम्मी थी तो फिर मैंने अपना टॉवल नीचे गिरा दिया तो फिर मम्मी मुझे देखते ही रह जाती है। फिर मुझे देखकर मम्मी अपने होंठ चबाने लगती है और चुत सहलाने लगती है। तब मेरा लण्ड खड़ा था। फिर मै अपना टॉवल फिर से लपेटकर कमरे में चला जाता हूँ। फिर मम्मी के दिमाग मे मेरा लण्ड ही घूमने लगता है तो फिर वो मेरे पास पास रहने लगती है। फिर आगे वीडियो में मम्मी मुझे पटाने के लिए अपने बदन को दिखाने लगती है। इतना ही नहीं फिर वो घर पर आने वाले दूधवाले, सब्जीवाले और जब वो घर से बाहर जाती है तब भी वो सभी को साड़ी में से अपने बोबो को खूब दिखाती है। 

 

इस तरह हमारी पहली पोर्न वीडियो की शूटिंग काफी अच्छी चल रही थी। शूटिंग के बीच मे और बाद में हम काफी मस्ती करते। 

 

अगले भाग मे पढिए के हमने कैसे-कैसे मस्ती की...

 

संबधित कहानियां
भाई के साथ चुदाई की पढ़ाई करती हुई एक बहन
भाई के साथ चुदाई की पढ़ाई करती...
मौसी की लड़की की ताबड़तोड़ चुदाई
मौसी की लड़की की ताबड़तोड़ चुदाई
मॉडर्न जमाने की बहन
मॉडर्न जमाने की बहन

कमेंट्स


कमेन्ट करने के लिए लॉगइन करें या जॉइन करें

लॉगइन करें  या   जॉइन करें
  • अभी कोई कमेन्ट नहीं किया गया है!