कामवासना डॉट नेट

-Advertisement-

अकेली मम्मी और अकेला मैं - 3 
@Kamvasna 17 अगस्त, 2023 3810

लंबी कहानी को बिना स्क्रॉल किए पढ़ने के लिए प्ले स्टोर से Easy Scroll एप डाउनलोड करें।

अकेली मम्मी और अकेला मैं - 2

फिर हम सो गए और फिर पापा और वो औरत हमसे मिलने के लिए सुबह आये। पापा ने हमसे उसे मिलवाया। उसका नाम नेहा था। उसकी बॉडी एकदम फिट थी। वो कोई एजेंट थी। फिर हम सब बैठकर बातें करने लगे। वो फिर जल्द ही हमारे साथ घुलमिल गई और फिर हमने काफी बातें की। वो मम्मी से मिलकर काफी खुश हुई। फिर पापा को किसी का फोन आया तो फिर वो दोनो चले गए और फिर हम भी वापिस आ गए। फिर हमारे आने के कुछ दिन बाद ही पापा आ गए। पापा मम्मी से नेहा के बारे में ही बात करने आये थे लेकिन उनकी हिम्मत नहीं हो रही थी। फिर मम्मी उनसे नेहा के बारे में पूछने लगी तो फिर बातों ही बातों में पापा ने बताया के वो नेहा से प्यार करते है। पापा ने मम्मी से कहा के मैं तुम्हे धोखा नहीं देना चाहता। इसलिए तुम्हे बताने की हिम्मत नहीं हो रही थी। फिर ये सुनकर मम्मी ने पापा को हमारे बारे में बताया। तो ये सुनकर पहले तो पापा बहुत हैरान हुए। लेकिन फिर मम्मी ने उन्हें सब बात बताई। फिर मम्मी ने मेरे लिए कहा के इसकी कोई गलती नहीं है। 

 

फिर मम्मी ने पापा को हमारी कुछ फोटो और वीडियो दिखाई। जिसे देखकर पापा गर्म हो गए तो फिर वो तो कमरे में ले जाकर मम्मी की चुदाई करने लगे। फिर वो जब कमरे से बाहर निकले तो काफी खुश थे। उन्होंने मुझे कुछ नहीं कहा। फिर पीछे से मम्मी कमरे से बिल्कुल नंगी ही बाहर आ गई। पापा के सामने मम्मी को नंगी देखकर मै थोड़ा शर्मा गया। लेकिन फिर मम्मी मेरे पास आई और मुझसे चिपक गई। फिर पापा ने मुझसे कहा के खुलकर एन्जॉय करो। फिर मम्मी ने मुझे नंगा कर दिया तो मेरी बॉडी देखकर पापा बहुत खुश हुए। फिर पापा के सामने ही मैंने मम्मी की चुदाई की। अब सब कुछ सामने आ चुका था तो फिर हम तीनों घर पर नंगे ही रहने लगे और फिर मम्मी की एक साथ चुदाई भी की। उधर फिर मम्मी ने पापा से कहकर नेहा को भी बुलवा लिया। जब नेहा आई तो मम्मी ने एक सेक्सी शार्ट ड्रेस पहन रखी थी। फिर मम्मी को ऐसे देखकर वो तो देखती ही रह गई। फिर मम्मी ने नेहा से खुलकर बात की और उसे हमारे बारे में बताया तो ये सुनकर पहले तो नेहा थोड़ी हैरान हुई लेकिन फिर जल्दी ही वो सब कुछ समझ गई। फिर मम्मी ने नेहा से कहा के अब सब कुछ सामने आ चुका है तो क्यों न हम सब साथ मिलकर रहे और मजे से जिंदगी जीये। ये बात नेहा को भी काफी पसंद आई। अब नेहा और मम्मी एक दूसरे की फ्रेंड बन चुकी थी। फिर नेहा ने मम्मी से हग किया। हमने साथ बैठकर काफी बातें की। 

 

दरअसल नेहा की पहले शादी हो चुकी थी। जिससे उसे एक लड़की थी जो कि 10-12 साल की थी। उसके पति की मौत हो गई थी। फिर वो पापा से मिली तो फिर वो दोनो एक दूसरे को पसंद करने लगे। उधर फिर नेहा मुझसे भी मिली और मुझसे भी काफी बातें की। नेहा काफी अच्छी औरत थी। फिर पापा और नेहा ने इस सबके लिए मम्मी से माफी मांगी। तो फिर मम्मी ने उन दोनों से मजे से जिंदगी जीने के लिए कहा। फिर शादी करने की बात आई तो नेहा ऑफ थे रिकॉर्ड ही शादी करना चाहती थी पापा से और पापा का भी यही प्लान था। फिर उधर मै और मम्मी भी एक दूसरे से शादी करना चाहते थे तो फिर हम सबने मंदिर में जाकर शादी करने का सोचा। फिर फाइनली हम चारो में एक मंदिर में जाकर अकेले ही शादी कर ली। फिर सुहागरात के दिन मैंने मम्मी की पहली बार गाँड चुदाई की। जिसमे मम्मी को दर्द हुआ पर मजा भी बहुत आया। फिर अगले दिन जब मम्मी लंगड़ाकर चल रही थी तो ये देखकर नेहा और पापा हँसने लगे। फिर तो मैं और पापा सबके सामने ही नेहा और मम्मी से रोमांस करने लगते। हम साथ मे डांस वगैरह करते और घर पर ही खूब मस्ती करते। पापा फिर नेहा के सामने ही मम्मी को बाहों में लेकर किस कर देते और फिर मै और नेहा भी एक दूसरे को गालों पर किस कर लेते। नेहा भी मुझे बहुत प्यार करती थी। फिर बार मै टॉवल में था और सब वहीं पर थे तो फिर मम्मी ने मेरा टॉवल खींच के उतार दिया तो फिर मै मम्मी से टॉवल वापिस देने के लिए कहने लगा तो फिर मम्मी ने मुझे नहीं दिया। फिर मै सबके सामने नंगा ही खड़ा रहा।

 

फिर पापा मेरी तरफ करने लगे और कहने लगे के देखो मेरा शेर बेटा। फिर नेहा भी मेरी बॉडी की तारीफ करने लगी। फिर वो मेरे पास आई और मुझे गले से लगाकर बोली के शर्माने की कोई बात नहीं है। हम ही तो है। फिर मम्मी मेरे पास आई और फिर मुझे टॉवल दे दिया। फिर कुछ दिनों बाद पापा और नेहा तो चले गए। फिर मम्मी ने अपनी सब फ्रेंड्स को बुलाकर उन्हें हमारी शादी के बारे में बताया तो वो सब काफी खुश हुई। तब मम्मी रेड बिकिनी में एक नई नवेली दुल्हन की तरह सजी हुई थी। उन सबने हम दोनो की जोड़ी को काफी पसंद किया। फिर हम सबने मिलकर खूब मस्ती की। मै तो अब मम्मी की दिन रात गाँड चुदाई ही कर रहा था। उधर मेरे दोस्त की मॉम मेरे दोस्त और अपने बेटे के सामने खुलकर रहने लगी थी। वो सेक्सी कपड़े पहनती और अपने बेटे को अपने बदन के खूब दर्शन करवाती। उधर मेरा दोस्त भी ये सब देखकर गर्म हो जाता और फिर वो शिल्पा के घर जाकर उसकी चुदाई करता। फिर एक बार जब मेरे दोस्त की मोम शिल्पा के घर गई तो उसने उन दोनों को चुदाई करते देख लिया। तब मेरा दोस्त काफी घबरा गया क्योंकि वो अपनी मॉम से डरता था। फिर उसने मुझे फोन करके सब कुछ बताया तो फिर मैंने उसे बिना डरे घर पर जाने के लिए कहा तो फिर उसकी मॉम ने उसे कुछ नहीं कहा। फिर उस दिन के बाद मेरे दोस्त की मोम इस बात का फायदा उठाकर उसके सामने सेक्सी शार्ट ड्रेस पहनने लगी। क्योंकि तब मेरा दोस्त अपनी मोम को कुछ नहीं कह सकता था। उधर मेरे दोस्त के घर पर उसकी छोटी बहन और पापा भी थे। उसके पापा उम्र में बड़े थे और बिल्कुल सीधे साधे से थे। 

 

फिर जब हम नॉर्मल किटी पार्टी करते तो मेरे दोस्त की मोम अपने साथ अपनी बेटी को भी ले आती। वो काफी क्यूट और ब्यूटीफुल थी। फिर मैने उससे दोस्ती कर ली और फिर ऑफिशियली वो मेरी गर्लफ्रैंड बन गई। इसमें मेरे दोस्त और उसकी मोम को कोई भी दिक्कत नहीं थी। मेरे दोस्त का नाम पंकज, उसकी मॉम का नाम सोनिया और उनकी बेटी का नाम स्वीटी था। फिर मै स्वीटी से मिलने उनके घर ही चला जाता था। तब जब स्वीटी और पंकज घर पर नहीं होते तो मैं सोनिया की चुदाई कर लेता। फिर तो सोनिया मेरे सामने भी अपने घर पर शार्ट ड्रेस पहनकर रहने लगी और फिर स्वीटी भी शार्ट ड्रेस में रहती। तब वो दोनो मां बेटी काफी सेक्सी लगती थी। फिर जब पंकज घर पर नहीं होता तो फिर मै सोनिया और स्वीटी के साथ खूब मस्ती करता। मै स्वीटी के सामने ही सोनिया को अपनी बाहों में ले लेता और फिर डांस करता और मौका देखकर उसके बदन को सहला देता। इसी तरह मै स्वीटी के साथ भी खूब मस्ती करता। 

 

फिर सोनिया के सामने मै और स्वीटी तो लिप किस भी कर लेते तो सोनिया कुछ नहीं कहती और वो कहती के तुम दोनो साथ मे बहुत अच्छे लगते हो। फिर इतना ही नहीं एक बार मैंने स्वीटी को बिकिनी पहनने के लिए कहा तो पहले तो उसने मना कर दिया लेकिन फिर जब मै उनके घर गया तो तब स्वीटी ने गेट खोला तो तब स्वीटी बिकिनी में थी और तब वहां सोनिया भी थी तो ये देखकर मै देखता ही रह गया। फिर स्वीटी ने मुझसे कहा के जब मैंने मम्मी से बिकिनी पहनने की परमिशन मांगी तो उन्होंने दे दी। फिर तब सोनिया मेरी तरफ देखकर मुस्कुराने लगी। तब सोनिया भी शार्ट ड्रेस में थी। फिर सोनिया के सामने ही मैंने स्वीटी को अपनी बाहों में लेकर खूब रोमांस किया। अब सबको पता चल चुका था के स्वीटी मेरी गर्लफ्रैंड है। स्वीटी को मेरी मस्क्युलर बॉडी काफी पसंद थी तो फिर वो मेरी बॉडी को चुमने लग जाती। फिर वो मेरे लण्ड को भी खूब सहलाती और चूसती। जिसमें उसे बहुत मजा आता। मैं भी स्वीटी के बदन को खूब सहलाता। अब मुझे स्वीटी की चुदाई करनी थी। मै और स्वीटी उसके घर पर ही उसके कमरे में नंगे होकर मजे कर लेते थे। जिस कारण सोनिया ने हम दोनो को एक साथ नंगे भी देख लिया था। फिर सोनिया ने कुछ नहीं कहा। इसके बाद तो मै सोनिया के सामने अंडरवियर और स्वीटी सिर्फ बिकिनी में ही रहने लगी। फिर सोनिया अपने बेटी के सामने ही मेरी बॉडी को सहलाने लग जाती और फिर मै भी सोनिया की गालों पर किस कर देता। फिर सोनिया ने स्वीटी को मुझसे घर पर ही चुदवाने के लिए कहा। क्योंकि स्वीटी पहली बार चुदने वाली थी तो सोनिया को उसकी फिक्र हो रही थी। लेकिन अभी तो मैं और स्वीटी सिर्फ एक दूसरे के लण्ड और चुत चूसकर ही मजे कर रहे थे। 

 

मैं स्वीटी को अपने घर ले गया। तब मेरी मम्मी बिकिनी में थी तो फिर वो मम्मी को बिकिनी में देखती ही रह गई। फिर मम्मी ने स्वीटी से कहा के मै तो इसके सामने नंगी भी रह लेती हूँ। ये सुनकर स्वीटी हँसने लगी। स्वीटी और मम्मी आपस मे काफी घुल मिल गई तो फिर तो स्वीटी लगभग रोज ही हमारे घर आ जाती। फिर स्वीटी भी हमारे घर बिकिनी में रहने लगी। फिर एक दिन तो मम्मी हमारे सामने नंगी ही आ गई तो ये देखकर स्वीटी शर्माने लगी लेकिन फिर मम्मी ने स्वीटी को प्यार किया तो फिर थोड़ी देर बाद वो नॉर्मल हो गई। फिर स्वीटी के सामने ही मम्मी ने मुझसे अपने बोबे चुसवाये। फिर इतना ही नहीं मेरे कमरे में मै और स्वीटी नंगे होकर खूब मस्ती कर लेते थे। तो एक दिन मम्मी ने हमे देख लिया और फिर उन्होंने हम दोनो को उनके सामने नंगा ही रहने के लिए कहा। मम्मी ने कहा के तुम दोनो मेरे बच्चे हो तो मुझसे क्या शर्माना। फिर हम तीनों हमारे घर पर हम नंगे ही रहने लगे। फिर मम्मी तो स्वीटी के सामने मेरा लण्ड भी पकड़ लेती और खूब मस्ती मजाक करती। फिर तो स्वीटी भी मेरा लण्ड पकड़कर सहलाने लगी। स्वीटी को भी अब ऐसे नंगी रहकर खूब मजा आने लगा था। अब स्वीटी काफी हद तक खुल चुकी थी। फिर स्वीटी तो हमारे घर ही रह लेती कई कई दिन तक। इसका सोनिया और पंकज को तो पता होता था और फिर वो स्वीटी के पापा को कह देते के स्वीटी अपनी फ्रेंड के घर गई है। तो फिर वो भी कुछ नहीं कहते। फिर सोनिया भी हमारे घर आने लगी तो फिर सोनिया, स्वीटी और मम्मी तीनो बिकिनी में होती और मै सिर्फ अंडरवियर में। 

 

मेरे और स्वीटी के सामने ही मम्मी तो सोनिया के बदन को सहलाने लगती और लिप किस भी कर लेती। फिर वो दोनो कमरे में जाकर एक दूसरे के साथ खूब मस्ती करती। फिर एक दिन स्वीटी ने उन दोनों को एक साथ नंगी देख लिया तो फिर उन्होंने स्वीटी को भी अपने साथ शामिल कर लिया। फिर उन तीनों ने उस दिन एक साथ खूब मस्ती की। उन्होंने एक दूसरे के बोबो और चुत को खूब चूसा। स्वीटी ने बाद में मुझे इस बारे में बताया। फिर वैलेंटाइन डे आने वाला था तो फिर स्वीटी को भी उसके भाई और शिल्पा के बारे में पता चला तो फिर उसने कुछ नहीं कहा बल्कि उसने अपने भाई का साथ दिया। उसके कहने पर मैंने शिल्पा और पंकज को एक रेस्टॉरेंट में बुलाया और फिर वहां मै भी स्वीटी के साथ चला गया तो फिर स्वीटी को देखकर पंकज थोड़ा शर्माने लगा। लेकिन फिर स्वीटी ने अपने भाई और शिल्पा की जोड़ी को अच्छा बताया और हम सबने आपस मे ढेर सारी बातें भी की। फिर उस दिन मैंने और पंकज ने एक दूसरे के सामने स्वीटी और शिल्पा से खुलकर रोमांस किया। फिर पंकज ने स्वीटी से अपनी मॉम को भी इसके लिए मनाने के लिए कहा तो फिर स्वीटी ने कहा के वो हेल्प कर देगी। ये सुनकर पंकज काफी खुश हो गया।

 

 फिर एक दिन मै और पंकज साथ बैठे थे तो फिर मै पंकज का फोन देखने लगा। उसके फोन में शिल्पा की काफी सारी नंगी फ़ोटो थी। तब पंकज भी मेरे साथ बैठा देख रहा था। फिर देखते देखते पंकज की मॉम की नंगी फ़ोटो और वीडियो सामने आ गई जो कि शिल्पा ने उसे भेजी थी। फिर वो फ़ोटो देखकर मैंने पंकज से कहा के आंटी काफी मस्त है। ये सुनकर पंकज मुस्कुराने लगा। फिर मै मेरा फोन निकालकर उसमें स्वीटी की फ़ोटो देखने लगा। स्वीटी की बिकिनी में नंगी फ़ोटो भी थी। फिर मै पंकज के सामने ही स्वीटी की नंगी फ़ोटो देखने लगा तो फिर वो भी अपनी बहन की नंगी फ़ोटो देखने लगा। ये सब देखकर हम दोनो गर्म हो चुके थे तो फिर हम शिल्पा के घर जाकर उसकी चुदाई करने लगे। फिर उधर मैंने स्वीटी को बताया के उसके भाई ने मेरे फोन में उसकी नंगी फ़ोटो देख ली है तो ये सुनकर स्वीटी गुस्सा नहीं हुई बल्कि वो खुश हुई। फिर वो अपने भाई के सामने शार्ट ड्रेसेज खुल्लम खुल्ला पहनने लगी। फिर एक दिन तो हद ही हो गई स्वीटी ने अपने भाई के सामने सिर्फ बिकिनी पहनी। वो तब काफी सेक्सी लग रही थी। लेकिन पंकज अपनी बहन को कुछ नहीं कह सकता था क्योंकि स्वीटी उसकी और शिल्पा की बात अपनी मॉम से करने वाली थी। फिर इसी बात का फायदा उठाकर मै भी स्वीटी के साथ पंकज के सामने खुलकर रोमांस करता। फिर तो हम दोनो लिप किस भी करने लगे और तो और हम फिर स्वीटी के कमरे में जाकर मस्ती भी कर लेते। फिर एक दिन मैंने स्वीटी के कमरे का गेट थोड़ा खुला छोड़ दिया तो फिर उस दिन पंकज हम दोनो को देखकर वहीं खड़ा होकर अपना लण्ड हिलाने लगा। जब ये स्वीटी को पता चला तो फिर वो गेट के पास चली गई। तब पंकज आंखें बंद करके अपना लण्ड हिला रहा था। फिर जब उसने अपनी आंखें खोली तो फिर वो स्वीटी को देखकर शर्माने लगा और फिर चला गया। 

 

फिर तो स्वीटी अपने भाई और मॉम के सामने बस बिकिनी में ही रहने लगी। उधर स्वीटी की मॉम सोनिया भी और ज्यादा शार्ट ड्रेस में रहने लगी और फिर मै भी बस अंडरवियर में रहता। फिर स्वीटी अपनी मोम से भी बिकिनी पहनने की जिद करने लगी तो फिर सोनिया ने भी एक दिन बिकिनी पहन ली। फिर जब पंकज घर आया तो अपनी मोम को बिकिनी में देखकर देखता ही रह गया। अब तो जब स्वीटी के पापा घर पर नहीं होते तो वो दोनो बस बिकिनी में ही रहती। उधर हमारे घर पर जब सोनिया और स्वीटी आई हुई होती तो फिर मम्मी औए स्वीटी नंगी ही रहती। जबकि मै तब अंडरवियर में और सोनिया बिकिनी में होती तो फिर तब मम्मी मुझे अपने बोबे चुस्वाने लग जाती और फिर स्वीटी भी अपनी मम्मी के बोबो को बाहर निकालकर चुसने लग जाती। तब सोनिया स्वीटी के सामने थोड़ा शर्माने का नाटक करती। लेकिन फिर एक दिन मम्मी ने सबके सामने मेरा अंडरवियर खोल दिया तो मै नंगा हो गया और उधर स्वीटी ने अपनी मम्मी की बिकिनी खोल दी तो वो नंगी हो गई। फिर हम चारो साथ मे डांस करने लगे और फिर मम्मी और सोनिया एक दूसरे के बूब्स और चुत को चुसने लगी तो फिर मै और सोनिया भी एक दूसरे की चुत और लण्ड को चुसने लगे। फिर सोनिया ने मेरे लिए कहा के मुझे हमेशा से ही ऐसे बॉडीबिल्डर मर्द अच्छे लगते है तो फिर स्वीटी ने अपनी मॉम से कहा के तो वो अब क्यों रुकी है, उसके पास जाकर साथ मे अपनी सेल्फी वगैरह लो और मिलो उससे। फिर ये सुनकर सोनिया मेरे पास आई और फिर वो मुझसे चिपक कर खड़ी हो गई और स्वीटी खुद हमारी फ़ोटो लेने लगी। फिर स्वीटी के सामने ही मैंने उसकी मॉम के बोबो को पकड़कर दबाया और बदन को सहलाया। तब सोनिया काफी खुश थी तो फिर उस दिन उसने पंकज और शिल्पा के बारे में बात की तो फिर मम्मी ने उन्हें घर पर बुलाने के लिए कहा। ये सुनकर स्वीटी काफी खुश हुई। 

 

फिर हम सबने वेलेंटाइन वाले दिन मिलने का प्रोग्राम बनाया। उस दिन स्वीटी के पापा तो कुछ दिनों के लिए काम से बाहर चले गए थे। फिर उस दिन स्वीटी और सोनिया ने मिलकर घर को सजाया और फिर शाम को स्वीटी और सोनिया ने तैयार होकर सिर्फ बिकिनी पहन ली। फिर मैने भी बस एक अंडरवियर पहन लिया। फिर पंकज शिल्पा को लेकर आया तो फिर शिल्पा हम सब से मिली और फिर शिल्पा ने एक नेट वाली बिकिनी पहन ली। जिसमे से उसका पूरा बदन दिख रहा था। फिर पंकज ने भी बस एक अंडरवियर पहन लिया। फिर हम सब डांस करने लगे तो सोनिया और स्वीटी ने पंकज के साथ खूब डांस किया और उधर मैंने भी शिल्पा, स्वीटी और सोनिया के साथ खूब डांस किया। उस दिन शिल्पा, स्वीटी और सोनिया तीनो बहुत ज्यादा सेक्सी लग रही थी। फिर हमने केक काटा और फिर मैंने और पंकज ने शिल्पा, स्वीटी को गिफ्ट दिए। फिर मैंने सोनिया को भी पंकज के सामने गई गिफ्ट दिया तो फिर सोनिया मेरे गले लग गई। फिर सोनिया ने अपने बेटे को कंडोम का एक डिब्बा दिया तो ये देखकर पंकज काफी खुश हुआ और फिर उधर सोनिया ने स्वीटी को भी कंडोम का एक डिब्बा दिया। फिर पंकज शिल्पा को लेकर अपने कमरे में चला गया और फिर उधर मै और स्वीटी हमारे कमरे में जाने लगे तो हमारे साथ सोनिया भी आ गई। फिर हम सब नंगे हो गए। फिर मै और स्वीटी एक दूसरे के बदन को चूमने लगे। फिर हम बहुत ज्यादा गर्म हो गए तो फिर मै स्वीटी के ऊपर आकर उसकी चुत में लण्ड डालने लगा और तब सोनिया भी वहीं थी। फिर सोनिया थोड़ी क्रीम लेकर आई और फिर स्वीटी के सामने ही मेरे लण्ड पर लगाने लगी और फिर मेरा लण्ड स्वीटी की चुत पर रख दिया तो मैं लण्ड अंदर डालने लगा। स्वीटी की चुत काफी टाइट थी तो उसे दर्द होने लगा लेकिन मै नहीं रुका और फिर पूरा लण्ड अंदर डाल दिया तो फिर स्वीटी दर्द से तड़पने लगी और सोनिया उसे संभालने लगी। लेकिन मै नहीं रुका और चुदाई करता रहा। फिर थोड़ी देर बाद स्वीटी भी मेरा साथ देने लगी। 

 

फिर हमने जमकर चुदाई की और चुदाई के बाद वो काफी खुश हुई। फिर उस रात हमने कई बार चुदाई की और सोनिया हमे देखकर अपनी चुत सहलाती रही। फिर स्वीटी तो थककर सो गई तो फिर मैंने सोनिया की चुदाई की और फिर हम तीनों नंगे ही एक साथ सो गए। सुबह सोनिया ने उठकर सबके लिए चाय बनाई और फिर वो अपने बेटे और शिल्पा को चाय देने उनके कमरे में चलीं गई तो तब वो दोनो नंगे सोए हुए थे। फिर सोनिया ने उन्हें जगाया तो फिर अपनी मम्मी को देखकर पंकज थोड़ा शर्माने लगा पर शिल्पा नंगी ही उठकर पेशाब करने चली गई। फिर सोनिया ने आकर मुझे और स्वीटी को भी उठाया। फिर हमने भी चाय पी और फिर हम पंकज और शिल्पा के कमरे में चले गए। तब शिल्पा तो नंगी ही कम्बल लेकर लेटी हुई थी। तब स्वीटी और सोनिया ने बिकिनी पहन रखी थी। फिर वो दोनो भी जाकर शिल्पा के साथ लेट गई। तब वहां यूज़ किये हुए कंडोम पड़े थे। तो फिर स्वीटी उन्हें गिनने लगी। वो 4-5 कंडोम थे। ये देखकर पंकज शर्माने लगा। तब मै और पंकज सोफे पर बैठे थे। फिर स्वीटी, सोनिया और शिल्पा सेक्सी बातें करने लगी। शिल्पा सोनिया से कहने लगी के तुम्हारा बेटा तो कमाल का है। मुझे खुश कर दिया उसने रात को। फिर स्वीटी ने शिल्पा से पूछा के आप लोगो ने कितनी बार किया तो फिर शिल्पा ने हँसकर कहा के 4 या 5 बार। फिर यही सवाल शिल्पा ने स्वीटी से पूछा और साथ मे वो उसकी चुत पर हाथ फेरकर देखने लगी और फिर शिल्पा बोली के तुम्हारी तो सूजकर डबल रोटी जैसी हो गई है। ये सुनकर हम सब हँसने लगे। फिर शिल्पा तो नंगी थी ही तो फिर उसने सोनिया और स्वीटी की बिकिनी खोलकर हमारी तरफ फेंक दी। अब वो तीनो रजाई में नंगी थी। फिर पंकज और मै स्वीटी और सोनिया की बिकिनी हाथ मे लेकर देखने लगे। 

 

फिर इतना ही नहीं शिल्पा ने फिर रजाई ऊपर से थोड़ी नीचे खिसका दी तो फिर उन तीनों के बोबे आधे से ज्यादा दिखने लगे। शिल्पा को फिर मस्ती सूझी तो फिर उसने सोनिया से रजाई छीन ली और सोनिया नंगी हो गई फिर शिल्पा बोली के तेरे बेटे ने तुझे कई बार नंगी देखा है अब शर्माना कैसा। फिर सोनिया हम सब के सामने नंगी हो गई और फिर वो रजाई लेने लगी और फिर वो फिर से रजाई में घुस गई। फिर उधर मैंने कमरे में लगे हीटर का टेम्परेचर बढ़ा दिया तो फिर कमरा फुल गर्म हो गया। तो फिर शिल्पा ने तो अपने ऊपर से रजाई हटा दी और वो नंगी होकर लेट गई और अपनी चुत सहलाने लगी। उधर फिर कुछ देर बाद सोनिया ने भी अपने ऊपर से रजाई हटा दी। अब सिर्फ स्वीटी ही रजाई में रह गई थी। तब हम सबको थोड़ा थोड़ा पसीना आने लगा था। फिर हम गर्म हो चुके थे तो फिर शिल्पा नंगी ही हमारे पास आ गई और फिर वो और पंकज एक दूसरे से किस करने लगे। फिर उधर स्वीटी ने मुझे अपने पास बुला लिया तो मै स्वीटी के पास उसकी रजाई में चला गया तो उसने मेरा अंडरवियर खोलकर बेड से नीचे फेंक दिया। ये देखकर सब हँसने लगे। फिर सोनिया नंगी ही हमसे दूर जाकर दूसरे सोफे पर बैठ गई। फिर उधर शिल्पा पंकज का लण्ड उसकी अंडरवियर से बाहर निकालकर हिलाने लगी और वो सोफे पर लेट गई तो फिर पंकज उसकी चुदाई करने लगा। फिर इधर मैं भी स्वीटी के ऊपर आकर उसकी चुदाई करने लगा। लेकिन फिर थोड़ी देर बाद मैंने स्वीटी को घोड़ी बनाया और फिर पीछे से मै उसकी चुत मारने लगा। तब स्वीटी एकदम नंगी थी और मै भी। फिर पंकज झड़ गया तो फिर वो हमारी चुदाई देखने लगे। तब कमरे में स्वीटी की सिस्कारियाँ गूंज रही थी। फिर इतना ही नहीं फिर मै सीधा होकर लेट गया तो फिर स्वीटी मेरे लण्ड पर बैठकर चुदने लगी। 

 

तब मैंने कंडोम नहीं पहना था तो फिर सोनिया ने हमारे पास आकर एक कंडोम निकालकर स्वीटी को दिया तो फिर स्वीटी ने कंडोम मेरे लण्ड पर चढ़ाया और फिर वो फिर से मेरे लण्ड पर बैठ गई। फिर थोड़ी देर बाद मै और स्वीटी दोनो घुटनो के बल खड़े होकर चुदाई करने लगे। तब हम दोनो सबके सामने बिल्कुल नंगे थे। फिर हमने बेड से उतरकर भी कई और स्टाइल में चुदाई की और फिर हम झड़ गए। हमारी चुदाई देखकर सब देखते ही रह गए। फिर तब सोनिया भी पंकज और शिल्पा के साथ जाकर बैठ गई थी। फिर जब पंकज का लण्ड खड़ा हो गया तो फिर शिल्पा घोड़ी बन गई और पंकज शिल्पा की गाँड मारने लगा। तब सोनिया उनके एकदम पीछे ही बैठी थी और वो अपने बेटे की गाँड सहला रही थी और उसे हौंसला दे रही थी। तब पंकज और तेजी से शिल्पा की चुदाई करने लगा। फिर सोनिया हमारे पास आई और हमारे पास लेटकर वो स्वीटी के बदन को सहलाने लगी और उसके माथे पर किस करने लगी। तब मै सोनिया के एकदम नजदीक लेटा था तो फिर सोनिया मेरी छाती पर हाथ फेरने लगी। सोनिया भी गर्म हो चुकी थी और उसकी चुत से पानी गिर रहा था। तब स्वीटी तो आंखें बंद करके लेटी थी और पंकज शिल्पा की चुदाई में बिजी था तो फिर सोनिया मेरा लण्ड सहलाने लगी। फिर सोनिया उठकर पंकज के पास चली गई और फिर वो उनके पास खड़ी होकर देखने लगी। फिर पंकज झड़ गया तो फिर वो दोनो बैठकर आराम करने लगे। फिर मै उठकर उनके पास जाने लगा और तभी सोनिया पीछे की और मुड़ने लगी तो वो मुझसे टकराकर मेरी बाहों में आ गई और मैंने सोनिया को पकड़ लिया। फिर सोनिया मेरी छाती पर हाथ फेरने लगी और मेरे डोलो को सहलाने लगी। 

 

फिर मै भी उन्हें हाथ ऊपर करके अपनी बॉडी दिखाने लगा। फिर सोनिया भी मेरे बदन को सहलाने लगी। तब ये सब पंकज देख रहा था। तब मेरा लण्ड भी खड़ा था। फिर मैंने सोनिया की कमर में हाथ डाल लिया तो फिर सोनिया भी मुझसे चिपक कर खड़ी हो गई। सोनिया फिर मेरी बॉडी की तारीफ करने लगी। फिर उधर स्वीटी को पेशाब करने जाना था और उससे उठा नहीं जा रहा था तो फिर मै उसके पास गया और उसे सहारा देकर बाथरूम में ले जाने लगा और फिर सोनिया भी दूसरी साइड से स्वीटी को पकड़कर हमारे पास बाथरूम में आ गई। फिर स्वीटी को टॉयलेट सीट पर बैठाकर सोनिया वहीं खड़ी हो गई और मै सोनिया के पीछे खड़ा हो गया और फिर पीछे से ही लण्ड उसकी गाँड में डाल दिया और धीरे धीरे धक्के लगाने लगा। तभी वहां पंकज और शिल्पा भी आ गए और वो वहीं खड़े होकर बातें करने लगे। तब मेरा लण्ड पंकज की मम्मी की गाँड में पूरा अंदर तक डला हुआ था। फिर तब पंकज शिल्पा के बदन को सहलाने लगा और मस्ती करने लगा। फिर सोनिया किसी बहाने से झुक कर खड़ी हो गई और फिर आगे से वो स्वीटी के ऊपर झुक गई और उसकी चुत को सहलाने लगी। फिर तब मैंने लण्ड सोनिया की गाँड से निकालकर चुत में डाल दिया तो सोनिया को एकदम झटका लगा। फिर इसका पता स्वीटी को चल गया तो उसने अपनी मॉम से पूछा के क्या हुआ तो सोनिया ने उससे कहा के तुम्हारा बॉयफ्रेंड मेरे पीछे से गुदगुदी कर रहा है। ये सुनकर स्वीटी हँसने लगी। फिर मै थोड़े तेजी से धक्के लगाने लगा तो फिर सोनिया स्वीटी के बोबो को चुसने लगी तो फिर स्वीटी को भी मजा आने लगा। फिर थोड़ी देर बाद सोनिया झड़ गई तो फिर सोनिया सीधी खड़ी हो गई और फिर पलटकर मेरे गले लग गई फिर उधर स्वीटी भी खड़ी होकर मेरे गले लग गई। फिर तभी सोनिया ने मेरा लण्ड पकड़ लिया और फिर तभी स्वीटी ने मेरा लण्ड पर हाथ रखा तो मेरा लण्ड पर अपनी मॉम का हाथ देखकर वो हँसने लगी तो फिर सोनिया ने हाथ हटा लिया और फिर स्वीटी मेरा लण्ड सहलाने लगी। 

 

फिर हम तीनों टॉयलेट से बाहर आये तो देखा के पंकज शिल्पा के बदन से खेल रहा था। फिर हम तीनों भी वहां खड़े हो गए। तब शिल्पा टॉयलेट जाने लगी तो फिर वो आकर मुझसे लिपट गई और फिर मेरी गाल पर किस करते हुए मेरी बॉडी की तारीफ करने लगी। फिर तभी सोनिया भी मेरी छाती सहलाकर मुझे सेक्सी कहा और ये सब सुनकर फिर स्वीटी मुझसे लिप किस करने लगी। फिर शिल्पा मेरा लण्ड भी सहलाने लगी। फिर शिल्पा टॉयलेट में चली गई और पंकज भी उसके पीछे पीछे चला गया और फिर मै स्वीटी और सोनिया के साथ कमरे में आ गया। फिर मै और स्वीटी तो एक साथ लेट गए बेड पर और फिर सोनिया भी हमारे साथ ही बैठ गई। फिर थोड़ी देर बाद पंकज और शिल्पा आ गए और फिर वो सोफे पर बैठ गए। फिर सोनिया तो पंकज के सामने ही मेरी काफी केअर करने लगी और फिर वो हमारे साथ ही लेट गई। तब मै उन दोनों के बीच लेटा था। फिर उधर शिल्पा को अपने घर जाना था तो फिर उसके साथ पंकज भी जाने लगा। फिर वो दोनो कपड़े पहनकर चले गए और तब मैं उसकी माँ बहन के साथ नंगा लेटा था। फिर उनके जाने के बाद मैं सोनिया की तरफ करवट लेकर लेट गया और फिर सोनिया कहने लगी के मुझे हमेशा से ऐसे बॉडी बिल्डर मर्द पसंद थे। फिर सोनिया थोड़ी उदास होकर स्वीटी से बोली के पर तेरे पापा तो एकदम ही बूढ़े लगने लगे है। दरअसल इस बात से स्वीटी भी सहमत थी। फिर मै सोनिया से बोला के आंटी स्वीटी के साथ साथ मै आज से आपका भी बॉयफ्रेंड हूँ। अगर आप मुझे अपना बॉयफ्रेंड बनाना चाहते हो तो। ये सुनकर फिर सोनिया स्वीटी की तरफ देखने लगी तो फिर स्वीटी ने भी मेरी बात का समर्थन किया और अपनी मॉम से मुझे अपना बॉयफ्रेंड बनाने के लिए कहा। 

 

फिर ये सुनकर सोनिया तो खुशी से उछल पड़ी। फिर वो मेरे गले लग गई। फिर मै स्वीटी के सामने ही उसकी मॉम की तारीफ करने लगा तो फिर सोनिया उठकर अपनी मॉम के ऊपर चली गई और उनके पूरे बदन को सहलाने लगी और चूमने लगी। फिर तभी सोनिया ने स्वीटी से सीधे ही पूछ लिया के क्या मै इससे सेक्स कर सकती हूँ तो फिर स्वीटी हँसकर बोली के आपका बॉयफ्रेंड है आप कुछ भी करो। फिर ये सुनकर सोनिया काफी खुश हुई और फिर वो स्वीटी के ऊपर आकर स्वीटी के बदन को चूमने लगी। फिर कुछ देर बाद वो मेरे ऊपर आ गई और फिर मेरे बदन को चूमने लगी। फिर वो मेरा लण्ड सहलाने लगी और फिर मुँह में लेकर चुसने लगी। ये देखकर तो स्वीटी देखती ही रह गई। फिर स्वीटी भी मेरा लण्ड चुसने लगी। वो दोनो बारी बारी से मेरा लण्ड चूस रही थी। फिर मैंने सोनिया को घोड़ी बनाया और स्वीटी के सामने ही सोनिया की जमकर चुदाई करने लगा। हमारी चुदाई देखकर स्वीटी काफी गर्म हो गई तो फिर वो भी साइड में घोड़ी बन गई तो फिर मै पीछे से उसकी चुत भी मारने लगा। फिर काफी देर तक मै उन दोनों की चुदाई करता रहा। फिर चुदाई के बाद जब मै झड़ने लगा तो फिर वो दोनो मेरे लण्ड का पानी पीने लगी। फिर हम एक साथ लेट गए। फिर सोनिया ने मुझसे कहा के पंकज को पता चलेगा तो वो क्या कहेगा। फिर स्वीटी बोली के वो कुछ नहीं कहेगा। फिर मैंने भी कहा के आप इसकी चिंता मत करो। फिर मैने कहा के अंकल को पता चलेगा तो। फिर सोनिया बोली के अरे वो खुद मुझे किसी और से चुदवाने की फिराक में है। ये सुनकर स्वीटी हैरान रह गई तो फिर सोनिया ने बताया के वो मुझे खुश नहीं कर पाते है तो वो ऐसा करना चाहते है। तो ये सुनकर मै काफी खुश हुआ। फिर मैंने सोनिया से कहा के फिर तो मै अंकल के सामने भी आपकी चुदाई कर सकता हूँ तो फिर ये सुनकर सोनिया हँसने लगी और बोली के हाँ मैं इस बारे में उनसे बात करूंगी। 

 

 

फिर तभी मेरे पास पंकज का फोन आया तो फिर वो काफी खुश था और बोला के यार मजा ही आ गया। मुझे तो यकीन ही नहीं हो रहा है के मैंने शिल्पा की चुदाई अपने घर पर की है। तब मैंने फोन स्पीकर पर कर रखा था तो स्वीटी और सोनिया भी हमारी बातें सुन रही थी। फिर मैंने पंकज से बोला के यार तुम्हारी मम्मी मुझसे कुछ ज्यादा ही चिपक रही है। मै क्या करूँ। फिर वो बोला के यार तो मेरी मम्मी को पटा ले कहीं वो शिल्पा के साथ मेरी चुदाई बंद ना करवा दे। ये सुनकर तो सोनिया काफी खुश हुई। फिर मैंने कहा के ठीक है। फिर उसने फोन कट कर दिया। फिर इसके बाद तो सोनिया मुझसे लिप किस करने लगी। फिर इसके बाद मैंने सोनिया के साथ एक सेल्फी लेकर पंकज को भेज दी तो फिर उसने भी आगे से शिल्पा के साथ सेक्स की फ़ोटो भेज दी। अब हम तीनों काफी खुश थे। फिर हम तीनों बाथरूम में जाकर शावर लेने लगे। फिर शावर लेने के बाद सोनिया और स्वीटी दोनो तैयार होने लगी। उन्होंने अच्छे से अपना मेकअप वगैरह किया और फिर अपने बालों का जुड़ा किया और गले मे और कानों में ज्वेलरी पहनी। तब वो दोनो किसी पोर्नस्टार से कम नहीं लग रही थी। फिर हम तीनों नंगे ही कमरे से बाहर चले आये और किचन में चली गई। फिर वो दोनो खाना बनाने लगी और साथ मे मैं उनसे मस्ती करने लगा। फिर खाना बन गया तो तभी पंकज भी आ गया। फिर हम सब साथ मे खाना खाने लगे और साथ मे खूब हंसी मजाक भी कर रहे थे। अब सोनिया तो पंकज के सामने ही बिना किसी शर्म और डर के मुझसे चिपक रही थी और बातें कर रही थी। तब सिर्फ पंकज ने कपड़े पहन रखे थे। तब खाना खाते टाइम सोनिया मेरा लण्ड सहला रही थी। तब ये मैने पंकज को इशारा किया तो फिर उसने टेबल के नीचे से ये सब देखा तो बस देखता ही रह गया है। फिर मै भी शरेआम उसकी मॉम की गालों पर किस कर रहा था। फिर इतना ही नहीं फिर मैंने सोनिया को अपनी गोद मे बैठा लिया तो फिर वो मेरी गोद मे बैठकर ही खाना खाने लगी। फिर खाना खाते ही स्वीटी तो अपने कमरे में सोने चली गई और फिर पंकज भी अपने कमरे में चला गया। फिर मै और सोनिया ही रह गए तो सोनिया तब किचन में बर्तन साफ कर रही थी। 

 

फिर मै पीछे से जाकर सोनिया से चिपक गया और उसे गर्म करने लगा। फिर हम हॉल में सोफे पर आकर बैठ गए और फिर सोफे पर ही मै सोनिया को घोड़ी बनाकर चोदने लगा तो फिर सोनिया भी जोर जोर से सिस्कारियाँ लेने लगी। फिर आवाजें सुनकर पंकज जब अपने कमरे से बाहर आया तो वो हमें ऐसे देखकर देखता ही रह गया। फिर वो थोड़ा छिपकर हमें देखने लगा। फिर मै सोनिया की गाँड पर जोर जोर से थप्पड़ मारने लगा तो फिर सोनिया चिल्लाने लगी। फिर जब मै झड़ने लगा तो फिर सोनिया मेरा पूरा लण्ड मुँह में लेकर चुसने लगी और मेरा सारा पानी पी गई और फिर हम दोनो वहीं चिपक कर लेट गए। ये सब देखकर पंकज ने अपना लण्ड भी हिलाया। फिर हमें वहीं नींद आ गई तो हम वहीं सो गए। लेकिन फिर हमें ठंड लगने लगी तो फिर सोनिया मुझे अपने बेडरूम में ले गई और हम वहां पर सो गए। फिर हम शाम को ही उठे। फिर उठकर सोनिया ने सबके लिये चाय बनाई और फिर वो पहले स्वीटी को चाय देने गई और फिर जब वो पंकज को चाय देने गई तो तब पंकज तो अपने लैपटॉप पर पोर्न फिल्म देख रहा था और अपना लण्ड हिला रहा था। फिर अपनी मॉम को देखकर वो थोड़ा घबरा गया और फिर सोनिया उसकी तरफ देखकर मुस्कुराने लगी और उसे चाय देकर आ गई और उसे कुछ नहीं कहा। इस बारे में फिर सोनिया ने मुझे बताया। फिर उस दिन ठंड काफी बढ़ गई तो फिर सोनिया ने तो बस एक शार्ट ड्रेस पहन ली और स्वीटी बस अपने कमरे में ही रही। फिर मै थोड़ी देर स्वीटी के कमरे में गया तो वो काफी थकी हुई थी और उसकी पूरी बॉडी दर्द कर रही थी। वो तब आराम ही कर रही थी। फिर उधर शिल्पा का पति आ गया था तो पंकज घर पर ही रहने वाला था। फिर शाम को सोनिया ने खाना बनाया तो फिर स्वीटी ने तो अपने कमरे में ही खाना खाया और फिर बस हम तीनों ने ही साथ मे खाना खाया। खाना खाते वक़्त मैंने सोनिया के बोबे सहलाये और चुत भी सहलाई। उधर सोनिया ने भी मेरे लण्ड को पंकज के सामने सहलाया। 

 

फिर सोनिया ने पंकज से थोड़ी खुलकर बात की। सोनिया ने उससे कहा के वो अपने लण्ड को ज्यादा ना हिलाए और अपनी सेहत का ध्यान रखें। फिर सोनिया ने उसके साथ उसके और शिल्पा के बारे में काफी बातें की। जिससे वो काफी खुश हो गया। फिर खाना खाने के बाद मैं पंकज के साथ उसके कमरे में चला गया। फिर पंकज और मै उसके लैपटॉप में पोर्न वीडियो देखने लगे। फिर उस वीडियो में लड़का लड़की की अलग अलग पोज में चुदाई कर रहा था तो ये देखकर मै बोला के मैं सोनिया की इस तरह से चुदाई करूंगा। फिर पंकज ने भी कहा के वो भी शिल्पा की एक बार इस तरह से चुदाई जरूर करेगा। फिर मै उसके सामने ही उसकी मम्मी को नाम से बुलाने लगा था। तब हम दोनो का लण्ड खड़ा हो चुका था तो फिर पंकज मेरा लण्ड पकड़कर सहलाने लगा। फिर तभी सोनिया हमारे कमरे में आ गई और पंकज को मेरा लण्ड सहलाता देखकर वो मुस्कुराने लगी। फिर सोनिया अपनी शार्ट ड्रेस उतारकर हमारे पास बैठ गई और फिर वो भी लैपटॉप में पोर्न वीडियो देखने लगी। तब फिर पंकज तो लैपटॉप में लग गया और फिर मै सोनिया के बदन को सहलाने लगा। फिर सोनिया भी मेरे लण्ड को सहलाने लगी। तभी पंकज एक दम हमारे पास में ही बैठा था। तब पंकज लैपटॉप पर अलग अलग पोर्न फिल्में चलाकर देख रहा था। फिर जब सोनिया फुल गर्म हो गई तो फिर उसने मुझे चलने का इशारा किया तो फिर मै और सोनिया खड़े हुए और फिर सोनिया पंकज को गुड नाईट कहकर जाने लगी और मै भी सोनिया के साथ उसकी कमर में हाथ डालकर जाने लगा। फिर कमरे से बाहर निकलने से पहले मैंने सोनिया को दीवार के सहारे लगाकर उसके बदन को चूमने लगा। तब पंकज हमे देखने लगा। पर अब काहे की शर्म। सोनिया भी घूम घूम कर अपने बदन को मुझसे सहलवा रही थी। फिर मैंने सोनिया की गाँड पर एक थप्पड़ मारा तो वो हँसने लगी और फिर हम कमरे से बाहर आ गए। फिर सोनिया मुझे अपने बेडरूम में ले गई। 

 

फिर हम चुदाई करने लगे और हमने काफी देर चुदाई की और साथ मे मैंने चुदाई की वीडियो भी बनाई। फिर हम एक दूसरे से चिपक कर सो गए। फिर अगले दिन हमे उठने में देरी हो गई तो फिर स्वीटी हमारे लिए चाय लेकर आई तो तब फिर पंकज भी वहां आ गया। फिर स्वीटी ने हमे उठाया और फिर हम सब चाय पीने लगे। फिर बातों ही बातों में सोनिया ने स्वीटी और पंकज से कहा के तुम्हारे नए पापा से मिलो। ये सुनकर फिर स्वीटी काफी खुश हुई और बोली के ये पापा मुझे काफी पसंद है। फिर स्वीटी बोली के क्यों न अब हमसे ऐसे ही रहे जैसे के हम फैमिली हो और आप दोनो हमारे मम्मी पापा। ये सुनकर सोनिया काफी खुश हुई। फिर स्वीटी बोली के हम एक मॉडर्न फैमिली की तरह बिल्कुल खुलकर रहेंगे और सभी को सब कुछ करने की आजादी होगी। स्वीटी की ये बात हम सबको काफी पसंद आई। फिर स्वीटी मुझे पापा पापा कहती हुई मेरे पास आई और फिर मेरे पास लेट गई और फिर सोनिया ने पंकज को भी अपने पास बुलाया। तब पंकज ने कपड़े पहने थे तो फिर सोनिया ने उसे नंगा होने के लिए कहा तो फिर पंकज नंगा होकर सोनिया के पास आकर लेट गया तो फिर सोनिया ने उसके मुंह को अपने बोबो में दबा लिया। फिर स्वीटी ने हमारे नए परिवार की एक साथ फोटो लेने के लिए कहा तो फिर उसने हम सबके साथ सेल्फी ली। फिर इतना ही नही सोनिया ने मेरे साथ अपनी काफी नंगी फ़ोटो खिंचवाई और फिर सोनिया ने पंकज के साथ फोटो खिंचवाई। इतना ही नहीं फिर स्वीटी ने भी अपने भाई के साथ चिपक कर फ़ोटो खिंचवाई। फिर हम सब एक दूसरे के गले लगे। अब हम सब काफी खुश थे। फिर उधर पंकज के पास शिल्पा का कॉल आ गया तो फिर वो चला गया और फिर हम बस तीनो ही रह गए। फिर मैंने उन दोनों की एक साथ चुदाई की और फिर मै भी अपने घर चला गया। क्योंकि मै घर नहीं गया था दो दिन हो गए थे। वैसे मैंने मम्मी से फ़ोन पर बात की थी तो उन्होंने बताया था के सीमा आई है उनकी फोटोशूट वाली फ़ोटो लेकर। 

 

फिर मै घर गया तो देखा के तब मम्मी और सीमा दोनो नंगी बैठी थी और फ़ोटो देख रही थी। सीमा ने बताया के वो फोटोग्राफर होटल में आया था तो फिर वो सब फ़ोटो सीमा को दे गया था। उधर होटल के लिए भी बैनर वगैरह सब तैयार हो गए थे। फिर जब मैंने फ़ोटो देखी तो देखता ही रह गया। क्योंकि वो फ़ोटो HD क्वालिटी में थी और उसमें मम्मी काफी सेक्सी लग रही थी। फोटोग्राफर ने मम्मी की फ़ोटो का एक एल्बम बनाया था जिसमे मम्मी की सब फ़ोटो नंगी ही थी। इसके अलावा उसने कई पोस्टर भी बनाये जिसमे मम्मी तो एकदम पोर्न स्टार लग रही थी। मम्मी जब फ़ोटो खिंचवा रही थी तब ऐसा बिल्कुल नहीं लग रहा था के ऐसी फ़ोटो आएंगी। फ़ोटो देखकर तो मेरा लण्ड खड़ा हो गया और फिर मैंने पहले मम्मी की चुदाई की और फिर सीमा की। फिर मम्मी ने फोटोग्राफर को फ़ोन किया और उसकी काफी तारीफ की। जिससे वो भी काफी खुश हुआ और फिर पूछने लगा के अगला फोटोशूट कब करवाओगी तो फिर मम्मी ने उससे कहा के मैं बता दूंगी। फिर होटल के मैनेजर का भी फोन आया और फिर वो भी मम्मी की काफी तारीफ करने लगा। क्योंकि होटल के बैनर बनकर तैयार हो चुके थे और उनमें भी मम्मी काफी सेक्सी लग रही थी। 

 

फिर मैंने जब मम्मी और सीमा को बताया के सोनिया के घर क्या क्या हुआ तो वो दोनो सुनती ही रह गई। फिर वो दोनो गर्म हो गई तो फिर वो आपस मे ही एक दूसरे के साथ मस्ती करने लगी। सीमा जाने वाली थी तो फिर मम्मी ने उसे कुछ दिन हमारे घर पर ही रहने के लिए कहा तो वो मान गई। फिर मैंने सोचा के इतने दिन मै भी सोनिया और स्वीटी के साथ मस्ती कर लूंगा। फिर मै वापिस सोनिया के घर चला गया। तब वो दोनो नहाकर तैयार हो रही थी। तब पंकज भी घर आ चुका था। फिर तैयार होने के बाद सोनिया ने मुझसे अपनी मांग में सिंदूर भरवाया और फिर मैंने मंगलसूत्र भी पहनाया। अब सोनिया मेरी बीवी बन गई थी। फिर इसके बाद स्वीटी ने हम सबका मुँह मीठा करवाया। फिर सोनिया बेशर्म होकर मेरा लण्ड चुसने लगी और फिर मैंने स्वीटी और पंकज के सामने ही सोनिया की चुदाई की। चुदाई के बाद तो सोनिया काफी खुश हुई और फिर उसने अगले जन्म में तुम ही मेरे पति बनना। फिर सोनिया तो खाना बनाने लगी और फिर मै, स्वीटी और पंकज स्वीटी के कमरे में चले गए। तब स्वीटी एकदम कड़क लग रही थी। तब हम बेड पर रजाई में लेटे थे और स्वीटी बीच मे थी। स्वीटी पंकज से बिल्कुल चिपक कर लेटी थी। दो लड़कों के बीच ऐसे नंगी लेटकर स्वीटी को काफी मजा आ रहा था। फिर स्वीटी मस्ती करते हुए अपने भाई का लण्ड सहलाने लगी तो फिर पंकज को भी मजा आने लगा। फिर थोड़ी देर बाद वो झड़ गया तो फिर स्वीटी ने पंकज को खड़ा किया और फिर उसके साथ वो चिपक कर खड़ी हो गई। 

 

तब उन दोनों ने एक दूसरे की कमर में हाथ डाल रखा था। फिर मै उनकी फोटो खींचने लगा। फिर स्वीटी ने पंकज के हाथ अपनी गाँड पर रखकर और फिर पता नहीं कहाँ कहाँ रखकर फ़ोटो खिंचवाई। पंकज ने भी स्वीटी के साथ काफी सेल्फी ली। फिर स्वीटी ने तो पंकज के साथ लण्ड पकड़कर भी फ़ोटो खिंचवाई। फिर इतना ही नहीं तब सोनिया वहां आ गई तो फिर सोनिया ने भी कई सेक्सी पोज में अपने बेटे के साथ फोटो खिंचवाई। फिर शिल्पा का कॉल आ गया तो पंकज चला गया तो फिर मैंने सोनिया और स्वीटी से पूछा के वो पंकज से चुदवाएगी तो फिर स्वीटी ने बिल्कुल मना कर दिया और फिर सोनिया ने कहा के अगर वो उससे चुदवाने लग जायेगी तो वो उसकी बात बिल्कुल भी नहीं मानेगा और ना ही उससे डरेगा। फिर खाना वगैरह खाने के बाद स्वीटी ने बिकिनी पहनी और मैंने अंडरवियर। फिर सोनिया ने हम दोनो की फ़ोटो खींची और फिर वो फ़ोटो मैंने अपने व्हाट्सप्प स्टेटस पर लगा दी और फिर ऐसी सेटिंग कर दी के वो सिर्फ मेव दोस्तो को ही दिखे। अब मेरे सब दोस्त जान चुके थे के स्वीटी मेरी गर्लफ्रैंड है और वो पंकज की बहन है। फिर उस फ़ोटो पर काफी लोगो ने मुझे मैसेज किया। फिर ये सब देखकर स्वीटी काफी खुश हुई। उधर पंकज ने भी हम दोनो की फ़ोटो को लाइक किया। मेरे कुछ दोस्तों ने काफी गंदे गंदे मैसेज भी भेजे थे। जिन्हें मैंने स्वीटी को दिखाया तो वो पढ़कर हँसने लगी। 

 

फिर इसके बाद तो मै लगभग हर दिन स्वीटी के साथ अपनी फोटो डालने लगा। फिर दोपहर बाद शिल्पा हमारे घर आई और उसे हमने सब कुछ बताया। फिर पंकज ने शिल्पा की और मैंने सोनिया की घोड़ी बनाकर चुदाई की। फिर उधर मेरी मम्मी ने अपनी सभी फ्रेंड्स के साथ किट्टी पार्टी का प्रोग्राम बनाया तो फिर मेरे कहने पर सोनिया और शिल्पा ने हमारे सीक्रेट ग्रुप के बारे में बताया तो ये सुनकर स्वीटी काफी खुश हुई और फिर वो भी किट्टी पार्टी में जाने के लिए तैयार हो गई। फिर मैंने स्वीटी को सब बताया के मेरी मम्मी की सब फ्रेंड्स मुझसे चुद चुकी है तो फिर ये सुनकर स्वीटी बोली के तुम जैसे मर्द को कौन छोड़ता है। फिर पार्टी अगले दिन थी तो फिर सुबह ही मै और स्वीटी मेरे घर चले गए और फिर वो सीमा से भी मिली। फिर मैंने उसे मेरी और मम्मी की चुदाई के बारे में बताया तो वो ज्यादा हैरान नहीं हुई। क्योंकि उसकी मम्मी मुझसे चुद रही थी। फिर उसने जब मम्मी की नंगी फ़ोटो देखी तो वो देखती ही रह गई। फिर वो बोली के मुझे भी ऐसा फोटोशूट करवाना है तो फिर मम्मी हँसकर बोली के हाँ हाँ जरूर। जब कोई ऐसा मौका मिलेगा तो मैं तुम्हे जरूर बताऊंगी। फिर हम सब पार्टी की तैयारियां करने लगे। फिर दोपहर तक बाकी सब लेडीज भी आ गई। फिर तब हम सब नंगे ही थे और स्वीटी को नंगी देखकर सब ज्यादा कुछ हैरान नहीं हुए। फिर मम्मी ने सीमा को सबसे मिलवाया और फिर मम्मी ने सबको अपनी फोटो दिखाई तो सब देखती ही रह गई। 

 

उधर फिर स्वीटी और सोनिया को मेरे साथ देखकर सब देखती ही रह गई। फिर सबके सामने मैंने उन दोनों की चुदाई भी की। फिर मैंने मम्मी की भी चुदाई की। फिर कुछ और लेडीज की भी मैंने चुदाई की। तब सब लोग हमारे घर नंगे घूम रहे थे और बस मस्ती कर रहे थे। ऐसा माहौल देखकर तो स्वीटी और सीमा को काफी मजा आया। पार्टी शाम तक चली और फिर शाम को सब अपने अपने घर चले गए। फिर स्वीटी और सोनिया के साथ मैं भी उनके घर चला गया। फिर उस रात शिल्पा भी आ गई थी तो फिर मैंने और पंकज ने एक साथ मिलकर शिल्पा की चुदाई की। फिर मैंने स्वीटी और सोनिया की भी चुदाई की। किट्टी पार्टी और मम्मी की नंगी फ़ोटो देखने के बाद स्वीटी और ज्यादा खुल गई। फिर वो भी अलग अलग ड्रेस और फिर नंगी ही अपनी फोटो खिंचती रहती। फिर मैंने स्वीटी और सोनिया को मूवी दिखाने और बाहर डिनर करवाने के लिए बोला तो वो दोनो काफी खुश हुई। फिर इसके बारे में मैंने पंकज से बात की तो फिर उसने शिल्पा से पूछा तो शिल्पा ने फिर किसी कारण से मना कर दिया तो वो थोड़ा उदास हो गया। लेकिन फिर सोनिया और स्वीटी ने उसे हमारे साथ चलने के लिए मना लिया तो वो थोड़ा खुश हो गया। फिर मैंने एक थिएटर में टिकट बुक की जहां सी ग्रेड और डी ग्रेड की फिल्में दिखाई जाती थी। मैंने थोड़े ज्यादा पैसे देकर कोने वाली सीट ले ली थी। 

 

फिर स्वीटी और सोनिया तैयार होने लगी। तब स्वीटी ने तो ऊपर एक छोटा टॉप और  नीचे शार्ट जीन पहन ली और सोनिया ने एक शार्ट ड्रेस पहन ली। वो दोनो तब काफी सेक्सी लग रही थी। फिर शाम के टाइम मै उनको अपनी कार में बैठाकर ले गया। फिर हम जब थिएटर पहुंचे तो वहां लगभग सभी मर्द ही थे और सब सोनिया और स्वीटी को ही देख रहे थे। फिर हम चारो जाकर हमारी सीट पर बैठ गए। अंदर बहुत अंधेरा था। फिर फ़िल्म शुरू हुई तो फ़िल्म में काफी सेक्सी सीन थे। तब मै सोनिया और स्वीटी के बीच मे बैठा था तो फिर बारी बारी से वो मेरा लण्ड सहलाने लगी और फिर चुसने लगी। उधर पंकज भी अपना लण्ड हिलाने लगा। फिर स्वीटी में नीचे से अपनी जीन उतारकर मेरी गोद मे आकर बैठ गई। फिर मैंने अपना लण्ड उसकी चुत में डाल दिया और वो ऊपर नीचे होने लगी। तब हमारे आसपास बैठे सभी लोग जो भी कोई लड़की के साथ आये थे उससे मस्ती कर रहे थे। फिर जब स्वीटी झड़ गई तो फिर सोनिया भी अपनी ड्रेस अपनी कमर तक करके मेरी गोद मे बैठ गई। फिर मैंने सोनिया के बोबो को बाहर निकाल लिया और सहलाने लगा। तब हमारे आसपास बैठे कई लोग सोनिया को देखकर अपना लण्ड हिलाने लगे। वैसे तो थिएटर में अंधेरा था पर फ़िल्म की लाइट में थोड़ा बहुत दिखाई दे रहा था। फिर जब सोनिया झड़ गई तो फिर वो अपनी सीट पर वैसे ही बैठ गई। उधर पंकज ने शिल्पा को वीडियो कॉल कर रखी थी तो फिर वो शिल्पा को देखकर अपना लण्ड हिला रहा था। तब स्वीटी भी नीचे से नंगी ही बैठी थी। फिर स्वीटी ने नीचे ब्रा पहन रखी थी तो फिर उसने अपना टॉप उतार दिया। फिर स्वीटी ने अपनी ब्रा भी खोल दी और वो बिल्कुल नंगी होकर बैठ गई। तब उसे ऐसे बहुत मजा आ रहा था। फिर स्वीटी फिर से मेरी गोद मे आकर बैठ गई और फिर मै उसके बोबो को सहलाने लगा। फिर उधर सोनिया ने भी धीरे से अपनी पूरी ड्रेस खोलकर नंगी हो गई तो फिर इसके बाद मैंने सोनिया की भी चुदाई की। फिर सोनिया ने अपने बेटे का लण्ड हिलाकर उसका पानी निकाल दिया। जिससे वो काफी खुश हुआ। 

 

फिर फ़िल्म खत्म होने वाली थी तो फिर सोनिया ने अपनी ड्रेस पहन ली और फिर स्वीटी ने नीचे जीन और ऊपर सिर्फ ब्रा ही पहनी। उसने अपने टॉप को वहीं पर छोड़ दिया। फिर वो ऐसे ही बाहर गई। तब उसे सोनिया और पंकज ने कुछ नहीं कहा। तब लगभग सभी स्वीटी को ही देख रहे थे। स्वीटी तब सिर्फ ब्रा में थी। उधर सोनिया के भी आधे से ज्यादा बोबे दिख रहे थे और नीचे से नंगी जांघे दिख रही थी। पर इससे उन दोनों को कोई फर्क नहीं पड़ रहा था। फिर मै उन सबको डिनर के लिए ले गया। वहां भी सब उन दोनों को ही देख रहे थे। फिर डिनर वगैरह करके हम लगभग आधी रात को घर पहुंचे। उस दिन स्वीटी और सोनिया काफी खुश थी। फिर घर जाने के बाद हम सब नंगे होकर एक साथ ही सो गए। तब मै तो स्वीटी और सोनिया के बीच सोया था और पंकज सोनिया की साइड लेटा था। फिर जब हम सुबह उठे तो देखा के पंकज का हाथ सोनिया के बोबो पर था। फिर तब मै एयर सोनिया ही उठे थे तो फिर मेरा मूड बन गया तो मैंने सोनिया को पंकज के ऊपर घोड़ी बना लिया और तब सोनिया के बूब पंकज के मुंह पर लटक रहे थे तो फिर मै तो सोनिया की चुदाई करने लगा और पंकज सोनिया के बोबो को चुसने लगा। फिर सोनिया एक हाथ से पंकज का लण्ड भी हिला रही थी। फिर थोड़ी देर बाद जब हम सब झड़ गए तो फिर सोनिया तो उठकर चाय बनाने चली गई और फिर पंकज फिर से सो गया। फिर थोड़ी देर बाद सोनिया हम सबके लिए चाय लाई और हम सब उठकर चाय पीने लगे। फिर चाय पीने के बाद मैंने स्वीटी के साथ बिस्तर में ही एक सेल्फी ली। तब स्वीटी के आधे बूब दिख रहे थे। फिर मैंने वो फ़ोटो अपने दोस्तो के साथ शेयर की तो सब देखते ही रह गए। स्वीटी को भी ये पसंद आया। फिर मेरे दोस्त स्वीटी की फ़ोटो और वीडियो मांगने लगे। लेकिन मैंने उन्हें मना कर दिया। फिर मैंने ये बात जब स्वीटी को बताई तो उसने मुझे उसके फ़ोटो और वीडियो मेरे दोस्तों को देने की इजाजत दे दी। लेकिन फिर भी मै बस बिकिनी और शार्ट ड्रेस में ही स्वीटी की फ़ोटो अपने दोस्तों को भेज देता था। उधर मेरे दोस्तों को पंकज और शिल्पा के बारे में पता था और पंकज को स्वीटी की फ़ोटो और वीडियो से कुछ फर्क नहीं पड़ता था। 

 

फिर स्वीटी एक शार्ट वीडियो एप्प पर अपनी वीडियो बनाकर डालने लगी तो उसकी वीडियो काफी लोग देखने लगे। स्वीटी को भी इसमें काफी मजा आता था। फिर एक बार मै अपने दोस्तों के साथ था तो मैंने अपने दोस्तों को स्वीटी की कुछ नंगी फ़ोटो दिखाई तो वो सब तो पागल हो गए। फिर मैंने उन्हें स्वीटी की चुदाई की वीडियो भी दिखाई। हालांकि ये सब मैंने उन्हें अपने फोन में ही दिखाई थी और किसी को भेजी नहीं थी। फिर सम सब की इसी तरह मस्ती चलती रही। फिर कुछ दिन बाद स्वीटी के पापा आ गए तो हम सब की मस्ती बंद हो गई। फिर मैंने सोनिया से कहा के मुझे अंकल से थोड़ा डर लगता है। फिर सोनिया बोली के तुम्हे उनसे डरने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। मै उनसे बात करती हूँ और फिर हम पहले के जैसे ही मस्ती करेंगे। फिर सोनिया ने अपने पति से बात की और फिर सोनिया ने उन्हें सब कुछ समझा दिया। मै स्वीटी से मिलने उनके घर जाता था तो फिर अंकल मुझसे बातें करने लगे। मुझे तो यकीन नहीं हुआ फिर वो मेरे साथ सेक्सी बातें भी करने लगे। हालांकि वो मुझे पसंद करते थे तो फिर मै भी उनसे खुलकर बातें करने लगा। फिर बस कुछ दिन बाद ही एक दिन रात को उन्होंने मुझे बुलाया और फिर वो मुझे अपने बेडरूम में ले गए। तब वहां सोनिया बिकिनी पहनकर खड़ी थी। सोनिया को देखकर मै थोड़ा शर्माने की एक्टिंग करने लगा। फिर कमरे का गेट बंद करके सोनिया मेरे पास आई और फिर मुझे नंगा कर दिया। मेरी बॉडी देखकर अंकल देखते ही रह गए। फिर मै भी गर्म हो गया तो मैं अंकल के सामने ही सोनिया के बदन को चूमने लगा और फिर मैंने सोनिया को नंगी कर दिया। फिर सोनिया को बेड पर ले जाकर मै सोनिया की अलग अलग पोज में चुदाई करने लगा। तब हमरुई चुदाई देखकर अंकल गर्म हो गए तो फिर वो भी नंगे होकर अपना लण्ड हिलाने लगे। फिर हमारी धमाकेदार चुदाई के बाद मै और सोनिया बेड पर लेट गए तो फिर अंकल आये और अपना लण्ड सोनिया की चुत में डालकर चुदाई करने लगे और फिर तब ही झड़ गए और फिर सोनिया के ऊपर ही लेट गए। फिर अंकल ने मेरी चुदाई की तारीफ की और फिर हम तीनों साथ ही सो गए। सुबह फिर सोनिया तो जल्दी उठ गई और फिर मै सो रहा था तो अंकल मेरे लण्ड को सहलाने लगे। अचानक तभी मेरी आँख खुल गई तो फिर अंकल थोड़े शर्मिंदा हुए। 

 

फिर सोनिया चाय लेकर आई तो फिर चाय पीकर मैंने सोनिया की एक बार और चुदाई की और फिर मै और अंकल मॉर्निंग वॉक के लिए घर से बाहर निकल गए और फिर मै अपने घर चला गया। फिर तो रोज रात को ही यही होने लगा। फिर मैंने अंकल को वियाग्रा लेने की सलाह दी और फिर उस रात हम दोनो ने मिलकर सोनिया की चुदाई की। पर चुदाई के बाद वो काफी ज्यादा थक जाते थे। फिर तो बस वो हम दोनो की चुदाई ही देखते थे। उधर फिर ये बात जब सोनिया और मैंने पंकज और स्वीटी को बताई तो वो दोनो काफी खुश हुए। फिर मैंने उन दोनों को उनके पापा के सामने सोनिया और मेरी चुदाई की फ़ोटो और वीडियो दिखाए तो वो दोनो देखते ही रह गए। फिर इसके बाद स्वीटी तो अपने पापा के सामने ही शॉर्ट्स में ही रहने लगी और उधर सोनिया भी अब बस शार्ट ड्रेस में रहने लगी। फिर रात को सोनिया की चुदाई के बाद मै स्वीटी के पापा के सामने ही स्वीटी के कमरे में चला जाता और फिर मै स्वीटी की भी चुदाई करता। फिर सुबह जब मै और स्वीटी उसके कमरे से बाहर निकलते तो उसके पापा कुछ नहीं कहते। इज़के बाद तो स्वीटी और भी ज्यादा खुल गई और फिर तो मैं और स्वीटी उसके पापा के सामने एक दूसरे की कमर में हाथ डाल लेते और फिर हग भी करने लगे। फिर स्वीटी के पापा को फिक्र होने लगी के कहीं मेरे और सोनिया के बारे में उनके बच्चों को पता चल जाएगा तो क्या होगा। तो फिर सोनिया ने उनसे कहा के आप इसकी बिल्कुल भी फिक्र मत करो। मै उन्हें सब समझा दूंगी। फिर मैंने और सोनिया ने अंकल को पंकज और शिल्पा के अफेयर के बारे में बताया तो वो ये सुनकर हैरान रह गए। उन्हें भी पता था के शिल्पा किस टाइप की औरत है। फिर अकेले में मैंने अंकल से शिल्पा से मजे करने के बारे में पूछा तो फिर उन्होंने मुझसे पूछा के क्या तुम मेरी उससे मीटिंग करवा सकते हो तो फिर मैंने कहा के हां क्यों नहीं। ये सुनकर अंकल काफी खुश हो गए।

 

फिर मैंने शिल्पा से बात की और फिर एक दिन मै अंकल को शिल्पा के घर ले गया। तब शिल्पा घर पर अकेली थी। तब शिल्पा ने बिकिनी पहन रखी थी। अंकल तो शिल्पा को देखकर देखते ही रह गए। फिर मै शिल्पा के पास जाकर उसके बदन को सहलाने लगा और उसे नंगी कर दिया। फिर अंकल शिल्पा के पास आकर उसके बदन को सहलाने लगे। उस दिन अंकल ने वियाग्रा लिया था तो फिर उन्होंने शिल्पा की चुदाई की। फिर इसके बाद मैंने भी शिल्पा की चुदाई की। उस दिन अंकल काफी खुश हुए। फिर इसके बारे में मैंने सोनिया, स्वीटी और पंकज को भी बता दिया। फिर सोनिया ने जब अंकल से शिल्पा के बारे में पूछा तो वो मुस्कुराने लगे और थोड़े शर्मिंदा भी हुए। फिर पंकज भी खुश हुआ। क्योंकि अब वो अपने पापा के सामने भी शिल्पा से मिल सकता है। फिर एक दिन हमने शिल्पा को घर पर ही बुला लिया। उस दिन शिल्पा ने एक शार्ट ड्रेस पहनी थी और वो काफी सेक्सी लग रही थी। उधर सोनिया ने भी एक सेक्सी सी शार्ट ड्रेस पहनी थी और स्वीटी ने तो बिकिनी पहनी थी। फिर हम सब बैठकर पहले तो बातें करने लगे। तब शिल्पा पंकज के साथ बैठी थी और मै स्वीटी के साथ। अंकल की नजर तो बस शिल्पा पर ही थी। फिर हम सब डांस करने लगे। डांस करते टाइम मैंने, अंकल और पंकज ने उन तीनों औरतों के साथ डांस किया। फिर जब अंकल शिल्पा के साथ डांस कर रहे थे तो तब वो शिल्पा के बदन को सहला रहे थे। ऐसा ही मै स्वीटी और सोनिया के साथ कर रहा था। फिर इतना ही नहीं शिल्पा में फिर अंकल के मुँह को अपने दोनो बोबो के बीच रख दिया तो फिर अंकल ने तो वहां से अपना मुंह हटाया ही नहीं। वो सरेआम शिल्पा के बोबो में अपना मुँह मार रहे थे। फिर ये देखकर हम सब हँसने लगे। फिर इसके बाद स्वीटी अपने पापा के साथ डांस करने लगी तो फिर स्वीटी उनसे काफी चिपक चिपक के डांस कर रही थी। तब शिल्पा पंकज के साथ डांस करने लगी तो फिर पंकज ने भी अपना मुंह शिल्पा के बोबो में डाल दिया। उधर मै भी सोनिया के बोबो पर हाथ रखकर डांस करने लगा और फिर मै सोनिया के बोबो को चूमने लगा। उधर फिर स्वीटी ने भी अपने पापा के मुंह को अपनी छाती से लगा लिया और तो और तब अंकल के हाथ स्वीटी की गाँड पर थे। फिर इसकी मैंने फ़ोटो खींच ली। फिर इतना ही नहीं स्वीटी की ब्रा की डोरी खुल गई तो फिर उसकी ब्रा उसके बोबो से हट गई तो फिर ये देखकर अंकल देखते ही रह गए। फिर स्वीटी अपने पापा की तरफ पीठ करके खड़ी हो गई तो फिर अंकल उसकी ब्रा की डोरी बंधने लगे। मैंने इसकी भी फ़ोटो खींची और साथ मैं हम इस सबकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी कर रहे थे। फिर हमने अपने पार्टनर फिर से चेंज किये तो फिर सोनिया मेरे पास आ गई, पंकज के साथ स्वीटी और फिर शिल्पा अंकल के साथ डांस करने लगी। फिर मैंने स्वीटी की तरफ इशारा करके अपनी पैंटी खोलने के लिए कहा तो फिर स्वीटी ने वैसा ही किया। उसने अपनी पैंटी खोल दी और फिर वो नीचे से नंगी हो गई और इसका किसी को भी पता नहीं चला और सब ऐसे ही डांस करते रहे। फिर जब पंकज ने स्वीटी की गाँड पर हाथ रखा तो तब उसे पता चला तो उसने स्वीटी से कहा तो फिर स्वीटी ने उसे कहा के डांस करते रहो। फिर सोनिया ने जब स्वीटी को देखा तो फिर उसने भी कुछ नहीं कहा। उधर अंकल तो शिल्पा में डूबे हुए थे तो फिर मैंने सोनिया के बोबो को ड्रेस से बाहर निकाल दिया तो फिर सोनिया भी वैसे ही डांस करती रही। सोनिया को भी ऐसे डांस करके बहुत मजा आ रहा था। 

 

फिर स्वीटी ने जब अपनी मम्मी को ऐसे देखा तो फिर उसने भी अपने बोबो को अपनी ब्रा से बाहर निकाल लिया। तब शायद अंकल ने सोनिया और स्वीटी को ऐसे देखा तो फिर शिल्पा ने भी अपने दोनो बोबो को बाहर निकाल लिया और फिर अंकल उसके बोबे चुसने लगे। फिर तभी अचानक म्यूजिक बंद हो गया तो फिर सब रुक गए। तब पहले तो हम सब एक दूसरे को देखते रहे। फिर किसी ने कुछ नहीं किया सब जैसे थे वैसे ही खड़े रहे। फिर स्वीटी बोली के म्यूजिक कैसे बंद हो गया। फिर वो ये कहते हुए म्यूजिक सिस्टम के पास चली गई। तब सोनिया ने अपने दोनो बोबो को अपनी ड्रेस में डालकर स्वीटी से बोली के बेटा तुम्हारी पैंटी कहाँ गई। तब स्वीटी ने हमारी तरफ मुड़कर नीचे देखा तो फिर वो हैरान होने की एक्टिंग करने लगी। फिर वो नीचे से अपनी पैंटी उठाकर पहनने लगी। लेकिन तब उसके दोनो बूब्स बाहर ही थे तो फिर सोनिया ने उसके बोबो की तरफ इशारा किया तो फिर उसने मुस्कुराते हुए अपने दोनो बोबो को अंदर कर लिया। फिर इसके बाद शिल्पा ने अंकल से बाथरूम पूछा तो फिर अंकल उसे अपने बेडरूम में लेकर चले गए। फिर अंदर जाते ही शिल्पा ने अपनी ड्रेस खोल दी तो फिर अंकल शिल्पा के बदन को सहलाने लगे। फिर अंकल शिल्पा की चुदाई करने लगे और वो तभी झड़ गए। तब सोनिया कमरे में चली गई तो फिर सोनिया को देखकर अंकल थोड़े शर्मा गए। लेकिन फिर शिल्पा ने सोनिया से बिकिनी देने के लिए कहा तो फिर सोनिया ने शिल्पा को पहनने के लिए बिकिनी दे दी और फिर बिकिनी पहनकर शिल्पा अंकल की कमर में हाथ डालकर बाहर आ गई। तब सोनिया भी उनके साथ थी। फिर तब स्वीटी मेरे साथ खड़ी थी और उसने मेरे कपड़े खोल दिये थे और तब मैं सिर्फ अंडरवियर में था और वो मेरे बदन को सहला रही थी। फिर शिल्पा पंकज के पास जाकर उससे चिपक गई तो फिर हम चारो अपने अपने कमरों में जाने लगे तो फिर सोनिया ने हमसे प्रोटेक्शन यूज़ करने के लिए कहा तो फिर स्वीटी ने हँसकर कहा के ओके मॉम। फिर कमरे में जाकर हम चुदाई करने लगे। उधर सोनिया और अंकल भी अपने कमरे में जाकर चुदाई करने लगे। 

 

फिर लगभग दो घण्टे के बाद सोनिया ने हम सबको खाने के लिए आवाज लगाई तो तब फिर स्वीटी ने बिकिनी पहनी और फिर अच्छे से मेकअप किया और तैयार हुई और मै सिर्फ अंडरवियर में ही रहा। तब मेरे बदन पर स्वीटी की लिपस्टिक के निशान थे तो वो मैंने नहीं साफ किये और मै ऐसे ही बाहर आ गया। उधर शिल्पा और पंकज भी अपने कमरे से बाहर आ गए। तब हमने देखा के सोनिया ने भी बिकिनी पहन रखी थी और वो काफी सेक्सी लग रही थी। फिर हम सब खाना खाने लगे और साथ मे खूब बातें करने लगे। तब मै अंकल के पास बैठा था और मेरे पास स्वीटी और अंकल के पास दूसरी तरफ शिल्पा बैठी थी। फिर सोनिया और पंकज बैठे थे। फिर खाना खाते खाते स्वीटी मेरा लण्ड अंडरवियर से बाहर निकालकर सहलाने लगी। ये देखकर अंकल तो देखते ही रह गए। पर अंकल खुद कहाँ कम थे वो भी शिल्पा की जांघे सहला रहे थे। फिर इस तरह मौज मस्ती करते हुए हम खाना खा रहे थे। खाना खाने के बाद फिर हम सब सोफे पर जाकर बैठ गए और बातें करने लगे। तब शिल्पा अंकल और पंकज के साथ उनके बीच मे बैठी थी और मै स्वीटी और सोनिया के साथ उनके बीच मे बैठा था। तब अंकल और पंकज दोनो शिल्पा से चिपक कर बैठे थे और शिल्पा ने उन दोनों के हाथ पकड़ रखे थे और अंकल और पंकज शिल्पा की जांघे सहला रहे थे। उधर स्वीटी मुझसे चिपक कर बैठी थी और मेरी छाती को सहला रही थी। फिर हम दोनो एक दूसरे से किस भी कर रहे थे। तब स्वीटी को जरा भी शर्म नहीं आ रही थी। फिर स्वीटी खड़ी होकर हम सब की फ़ोटो लेने लगी और वीडियो बनाने लगी। 

 

तब सोनिया मेरे साथ चिपक कर बैठ गई। फिर मै भी सोनिया की जांघें सहलाने लगा। फिर सोनिया भी मेरे बदन को सहलाने लगी। फिर तभी मैंने सोनिया की ब्रा के हुक खोल दिये तो फिर सोनिया की ब्रा खुलकर आगे की तरफ लटक गई। फिर सोनिया मेरी तरफ पीठ करके बैठ गई तो मै उसकी ब्रा के हुक लगाने लगा। लेकिन फिर मैंने झूठ बोल दिया के हुक टूट गया है तो फिर सोनिया वैसे ही बैठ गई। फिर इतना ही नहीं सोनिया ने अपनी ब्रा पूरी उतार दी और फिर एक हाथ से अपने बोबो को ढक लिया और फिर दूसरे हाथ से अपनी ब्रा का हुक देखने का नाटक करने लगी। मुझे और सोनिया दोनो को पता था के हुक नहीं टूटा है। फिर इस बहाने सोनिया बीच बीच मे अपना हाथ बोबो पर से हटा लेती और बस ब्रा को देखने लग जाती। फिर जब कोई देख रहा होता तो सोनिया फिर से अपना एक हाथ बोबो पर रख लेती। इस तरह सोनिया अब ऊपर से नंगी ही थी। उधर पंकज और अंकल सबके सामने ही शिल्पा के बोबे दबाने लग गए थे और पैंटी के ऊपर से चुत भी सहलाने लगे थे। फिर ये सब देखकर सोनिया ने भी अपना हाथ अपने बोबो पर से हटा लिया और ऐसे ही बैठ गई। उधर फिर शिल्पा ने भी ऊपर से अपनी ब्रा ढीली करके खोल दी तो फिर पंकज और अंकल उसके एक एक बोबे को पकड़कर सहलाने लगे। फिर तब स्वीटी ऐसे ही सबके साथ सेल्फी लेने लगी। अब सबकी शर्म चली गई थी तो फिर स्वीटी अपने पापा की गोद मे बैठकर सेल्फी लेने लगी। फिर शिल्पा और सोनिया को देखकर स्वीटी ने भी फिर नीचे से अपनी पैंटी खोल दी। तब किसी ने स्वीटी को कुछ नहीं कहा। यहाँ तक के अंकल ने भी। 

 

फिर अंकल और पंकज तो शिल्पा के बोबो को चुसने लगे और फिर शिल्पा ने अपनी पैंटी भी खोल दी और बिल्कुल नंगी होकर बैठ गई। फिर स्वीटी ने भी अपने दोनो बोबो को बाहर निकाल लिया। फिर वो पंकज की गोद मे बैठकर सेल्फी लेने लगी। उधर फिर शिल्पा और अंकल तो एक दूसरे से लिप किस करने लगे। फिर अंकल ने तो नंगी शिल्पा को अपनी गोद मे बैठाकर उससे मस्ती करने लगे। फिर उधर मैंने स्वीटी को अपनी गोद मे बैठा लिया और उसकी ब्रा को उतारकर उसे पूरी नंगी कर दिया। फिर स्वीटी को नंगी देखकर शिल्पा खड़ी हुई और फिर उसने स्वीटी को भी अपने साथ खड़ा कर लिया और फिर वो सबके सामने स्वीटी के बदन को सहलाने लगी। तब अंकल तो ये देखकर और ज्यादा गर्म हो गए। फिर मेरे दिमाग मे एक आईडिया आया और मैंने सोनिया को खड़ी करके सोनिया की पैंटी उतार दी। फिर सोनिया भी नंगी हो गई तो फिर शिल्पा ने सोनिया को भी अपने पास बुला लिया। फिर शिल्पा सबके सामने उन दोनों माँ बेटियों के बोबो और चुत को सहलाने लगी। फिर ये देखकर तो मैं, पंकज और अंकल फुल गर्म हो गए। फिर इतना ही नहीं शिल्पा ने अंकल को खड़ा करके उन्हें स्वीटी और सोनिया के बीच खड़ा कर दिया तो फिर स्वीटी तो अपने पापा से चिपक गई और फिर शिल्पा उनकी फोटो लेने लगी। तब अंकल ने कपड़े पहन रखे थे तो फिर शिल्पा उनके पास जाकर उनके कपड़े खोलने लगी तो उन्होंने इसका बिल्कुल भी विरोध नहीं किया। 

 

फिर शिल्पा ने अंकल को नंगा कर दिया तो फिर वो स्वीटी और सोनिया की कमर में हाथ डालकर खड़े हो गए तो फिर शिल्पा उनकी फोटो खींचने लगी। फिर शिल्पा स्वीटी और अंकल की फ़ोटो खींचने लगी। तब स्वीटी ने अपने पापा के साथ कई पोज में फ़ोटो खिंचवाई। तब अंकल के हाथ कभी स्वीटी के बोबो पर थे तो कभी गाँड पर। इस सबके कारण अंकल का लण्ड खड़ा हो चुका था तो फिर ये देखकर स्वीटी मुस्कुराने लगी। फिर शिल्पा ने पंकज को भी नंगा करके उनके साथ खड़ा कर दिया। तब स्वीटी अपने पापा और भाई के बीच उनकी कमर में हाथ डालकर खड़ी थी। फिर स्वीटी ने अपने भाई के साथ भी कई पोज में फ़ोटो खिंचवाई। फिर शिल्पा ने सोनिया और पंकज की साथ मे फ़ोटो खींची। तब पंकज ने सोनिया के साथ काफी सेक्सी फ़ोटो खिंचवाई। फिर शिल्पा ने मेरी सोनिया और स्वीटी के साथ फोटो खींचने लगी तो फिर हमने कई नए पोज में फ़ोटो खिंचवाई। तब स्वीटी सोफे पर घोड़ी बन गई और मै स्वीटी के पीछे जाकर खड़ा हो गया और आगे स्वीटी के पापा को बैठा दिया। फिर उधर सोनिया के साथ भी मैंने इसी पोज में फ़ोटो खिंचवाई तब पंकज सामने खड़ा था। 

 

फिर शिल्पा ने पंकज, स्वीटी और अंकल को एक साथ सोफे पर लेटा दिया। तब स्वीटी उन दोनों के बीच लेटी थी और वो तीनो कैमरे की तरफ देखकर हंस रहे थे। फिर शिल्पा ने स्वीटी को सोफे पर उल्टी लेटा दिया और फिर अंकल को स्वीटी के ऊपर लेटने के लिए कहा तो अंकल ने वैसा ही किया। शिल्पा जैसे जैसे कह रही थी वैसे वैसे पंकज और अंकल करते जा रहे थे। दरअसल वो दोनो शिल्पा के साथ अपनी ऐसी फ़ोटो खिंचवाना चाहते थे तो फिर शिल्पा ने उनकी कुछ फोटो और खींची। फिर शिल्पा फ़ोन स्वीटी को देकर फिर वो पंकज और अंकल के साथ फोटो खिंचवाने लगी। शिल्पा फिर पहले तो अंकल के ऊपर लेट गई और फिर उनके लण्ड को अपनी चुत से रगड़ने लगी। फिर इसके बाद शिल्पा ने अपनी गाँड से भी अंकल के लण्ड को सहलाया तो वो झड़ गए। तब शिल्पा की गाँड पर अंकल के लण्ड का पानी देखकर सब हँसने लगे। उधर फिर मै भी वहीं खड़े खड़े पीछे से सोनिया की गाँड में लण्ड डालकर करने लगा। फिर वो थोड़ी झुक गई तो फिर मैंने उसकी चुत भी मारी और फिर वो झड़ गई। लेकिन मै नहीं झड़ा था तो फिर मैंने स्वीटी को इशारे से बुलाया और मै जाकर अंकल के पास बैठ गया। फिर सोनिया पंकज और शिल्पा की फ़ोटो खींचने लगी। तब शिल्पा तो सेक्सी सेक्सी पोज में फ़ोटो खिंचवा रही थी। तब कई बार पंकज ने लण्ड शिल्पा की चुत और गाँड में डाल भी दिया था पर शिल्पा ने उसका लण्ड बाहर निकाल दिया। वो उसे तड़पा रही थी। फिर स्वीटी मेरे पास आई तो फिर वो खड़ा लण्ड देखकर मेरी गॉड में आकर बैठ गई। तब उसके पापा एकदम हमारे पास में बैठे थे। 

 

लेकिन फिर भी वो बिल्कुल भी नहीं शर्मा रही थी। तब मेरा लण्ड उसकी चुत में था। वो भी काफी गर्म थी तो फिर वो मेरे लण्ड पर धीरे धीरे ऊपर नीचे होने लगी। उसके पापा भी ये बस देखते रहे। फिर वो थोड़ी तेजी से ऊपर नीचे होने लगी और फिर हम दोनो एक साथ झड़ गए तो हम दोनो शांत हो गए। फिर ये सब देखकर अंकल हम दोनो की तरफ देखकर हँसने लगे। फिर उधर पंकज भी जब शिल्पा घोड़ी बनी हुई थी तो उसकी गाँड में झड़ गया था। फिर हम सब शांत होकर बैठ गए। फिर शिल्पा ने जब सबसे पूछा के मजा आया या नहीं तो सबने कहा के बहुत मजा आया। फिर शिल्पा ने कहा के हम फिर से शुरू करेंगे थोड़ी देर बाद। शिल्पा ने कहा के मुझे ऐसे वीडियो और फ़ोटो लेने का बहुत शौक है इसलिए मै जैसा कहूँ सब वैसा ही करेंगे। तो सबने हाँ में सिर हिलाया। फिर सोनिया हम सबके लिए कड़क चाय बनाकर लाई तो फिर हम सब फिर से तैयार हो गए। फिर शिल्पा के कहने पर स्वीटी और सोनिया मेकअप वगैरह करके तैयार हो गई। फिर शिल्पा ने पंकज का लैपटॉप मंगवाकर उसमें पोर्न फिल्म चलाकर उसमें जो सीन चल रहा था तो अंकल और स्वीटी को उस सीन की कॉपी करने के लिए कहा। तो फिर स्वीटी और अंकल तैयार हो गए। फिर वो दोनों वो सीन करने लगे। उस सीन में पहले स्वीटी बिकीनी में अपने पापा के पास जाती हैं और फिर उसके पापा स्वीटी को अपनी बाहों में लेकर उसे चूमने लग जाते है और फिर वो स्वीटी की ब्रा पैंटी खोलकर उसे नंगी कर देते हैं। फिर वो स्वीटी को बेड पर लेटा देते हैं और फिर उसके पापा उसके पैर को चूमते हुए ऊपर बढ़ने लगटे है तो फिर स्वीटी उलटी होकर लेट जाती है तो फिर उसके पापा स्वीटी की गाँड पर किस करने लगते है। फिर वो स्वीटी की पीठ पर पहुँच जाते हैं। फिर अगले ही सीन मे दोनों करवट लेकर रजाई मे लेट जाते हैं और रजाई उनकी कमर तक होती है। फिर अंकल अपनी बेटी के बोबो को सहलाने लग जाते हैं और साथ में हिलने लग जाते है मानो अंकल ने अपना लंड स्वीटी की चुत मे डाल रखा हो। फिर स्वीटी भी इस तरह से ऐक्टिंग करने लगती हैं जैसे उसे बहुत मजा आ रहा हो। फिर शिल्पा के कहने पर स्वीटी और अंकल एक दूसरे को जानू कहकर बुलाते हैं। 

 

फिर अंकल स्वीटी के ऊपर आ जाते हैं और फिर वो जोर जोर से हीलने लगते हैं मानो वो स्वीटी की चुदाई कर रहे हो और स्वीटी भी ऐसे ही सिसकारियाँ लेने लगती हैं। फिर अगले सीन में स्वीटी घोड़ी बन जाती है और फिर शिल्पा के कहने पर अंकल स्वीटी की कमर पकड़कर जोर जोर से धक्के लगाने लग जाते हैं और उधर स्वीटी भी जोर जोर से सिसकारियाँ लेने लग जाती हैं और वो साथ में फक मी हार्ड फक मी हार्ड कहने लगती हैं। फिर वो दोनों लास्ट में ऐसे ऐक्टिंग करते हैं जैसे वो झड़ गए हो। फिर वो दोनों सीधे होकर बैठ जाते है और फिर स्वीटी अपने पापा से चिपक कर बैठ जाती है और फिर वो अपने पापा को आई लव यू जान कहती है और फिर वो रजाई में अंकल के लंड वाली जगह अपना हाथ रखकर ऊपर नीचे करने लगती है मानो वो उनका लंड हिला रही हो। फिर वो दोनों लिप किस करने लगते है और सीन खत्म हो जाता है। फिर शिल्पा कट बोल देती है और फिर वो उन दोनों की काफी तारीफ करती हैं। ये सब देखकर हम सबको काफी मजा आता है और उधर अंकल और स्वीटी को भी काफी मजा आता हैं। फिर शिल्पा कोई दूसरा सीन सोचती हैं करने के लिए। 

 

फिर वो आइडीया लेने के लिए कुछ पॉर्न फिल्में भी देखती हैं। फिर शिल्पा के मन में एक आइडीया आता हैं और फिर इस बार वो पंकज को साथ लेती हैं। वो दोनों को पूरा सीन समझाती हैं। फिर सीन सुहागरात को होता है तो फिर स्वीटी अपनी मांग मे सिंदूर और गले मे मंगलसूत्र पहन लेती है और सीन बिल्कुल रियल बनाने के लिए सोनिया स्वीटी को अपना शादी का लहंगा चोली दे देती हैं और उधर पंकज भी कपड़े पहन लेता हैं। फिर स्वीटी तो जाकर बेड पर बैठ जाती है और फिर उधर से पंकज कमरे मे आता है और फिर वो स्वीटी के पास जाकर उसका घूँघट उठाता है और फिर उसकी तारीफ करता हैं। फिर वो धीरे धीरे स्वीटी के कपड़े उतारकर उसे नंगी कर देता है और फिर स्वीटी उलटी होकर लेट जाती है तो फिर वो स्वीटी के बदन को चूमने लगता हैं। फिर वो दोनों बैठ जाते है तब पंकज दोनों हाथों से स्वीटी के बोबो को सहला रहा होटा है और फिर स्वीटी भी पंकज के लंड को सहलाने लगती हैं। फिर शिल्पा के कहे अनुसार स्वीटी रजाई मे मुँह डालकर ऐसे ऐक्टिंग करती है जैसे वो उसका लंड चूस रही हो लेकिन वो सिर्फ उसका लंड सहला रही थी। फिर स्वीटी लेट जाती है और अपने ऊपर रजाई ले लेती है और फिर पंकज भी रजाई मे घुसकर ऐसे ऐक्टिंग करता है जैसे वो स्वीटी की चुत चाट रहा हो पर असल में स्वीटी ने अपनी चुत के ऊपर एक छोटा सा तकिया रख रखा था और पंकज ने उसी पर अपना मुँह रख रखा था। फिर पंकज उस तकिये पर अपना लंड रगड़ने लग जाता है और वो चुदाई की ऐक्टिंग करने लगते हैं। 

 

फिर स्वीटी घोड़ी बन जाती है तो फिर वो स्वीटी के पीछे तकिया लगाकर उस पर अपना लंड रखकर फिर रगड़ने लग जाता हैं। तब कुछ देर तो ऐसा लगता है जैसे सच में उनकी चुदाई चल रही हो। स्वीटी भी चुदवाने की बहुत अच्छी ऐक्टिंग करती हैं। फिर थोड़ी देर बाद पंकज झड़ जाता है तो फिर जब इसका पता स्वीटी को चलता है तो फिर स्वीटी बेड से उतरकर खड़ी हो जाती है और पंकज रजाई मे ही बैठा रहता है। फिर शिल्पा के कहने पर स्वीटी पंकज को गंदी गंदी गालियां देने लग जाती हैं। तब स्वीटी ऐसी गंदी गंदी गालियां देती हुई काफी सेक्सी लग रही थी। फिर सीन वहीं पर खत्म हो जाता है तो फिर स्वीटी काफी हसंती है। फिर हम सब भी खूब हँसते हैं। हम साथ में इस सब की विडिओ भी बना रहे थे और मैं फोटो खींच रहा था। फिर अगला सीन फिर से अंकल और स्वीटी के लिए होता हैं। 

 

इसमे स्वीटी रंडी होती है और अंकल उसका ग्राहक होता है। फिर जब शिल्पा उन दोनों को सीन समझाती है तो स्वीटी हंसने लग जाती है। उधर अंकल भी थोड़े शर्माने लगते है। फिर सीन शुरू होता है और स्वीटी एक शॉर्ट ड्रेस पहनकर कमरे के बाहर खड़ी हो जाती है और फिर अंकल ग्राहक बनकर उसके पास आते हैं। तब अंकल उससे पूछते है के कितना लोगी तो फिर स्वीटी कहती है के एक रात के पाँच हजार। फिर स्वीटी अपनी ड्रेस नीची करके अपने बूब अंकल को दिखाने लगती है और फिर स्वीटी मुड़कर खड़ी हो जाती है और फिर अपनी ड्रेस अपनी ऊपर करके अपनी गाँड दिखाने लगती है। फिर अंकल स्वीटी की गाँड पर हाथ फेरने लगते है और फिर शिल्पा के कहने पर अंकल स्वीटी की गाँड की दरार में हाथ डालकर उसकी चुत सहलाने लग जाते है तो तब स्वीटी हंसने लग जाती है। उसे तब गुदगुदी होने लगी थी। लेकिन फिर वो फिर से सीन करने लगती है। फिर वो अंकल को लेकर कमरे मे चली जाती है और फिर अंदर से कुंडी लगा लेती है और फिर वो नंगी होकर बेड पर लेट जाती है। तब हम सब कमरे के अंदर ही होते है। फिर अंकल अपने कपड़े खोलने लगते है और तब फिर स्वीटी अंकल को देखते हुए अपनी चुत सहलाने लग जाती है। फिर अंकल स्वीटी के पैर को चूमने लगते है और फिर वो चूमते हुए ऊपर जाते है। तब स्वीटी सीधी होकर लेटी थी तो तब उनके सामने स्वीटी की चुत आ जाती है तो फिर वो स्वीटी अपनी चुत अपने हाथ से चौड़ी कर देती है तो तब भी स्वीटी हँसने लग जाती है। लेकिन फिर शिल्पा के कहने पर अंकल स्वीटी की चुत मे थूक थूकते है और फिर अंकल स्वीटी के पेट को चूमते हुए उसके बोबे चूसने लगते है और फिर वो लिप किस करने लगते हैं। फिर अंकल स्वीटी के दोनों पैरों को अपने कंधों पर रखकर उसकी चुत पर अपने लंड को रगड़ने लगते हैं। तब अंकल का लंड खड़ा नहीं होता हैं तो वो बस स्वीटी की चुत पर अपना लंड रगड़ रहे होते है। 

 

फिर तब स्वीटी भी आह आह करती है जैसे उसे बहुत मजा आ रहा हो। फिर चुदाई के बाद अंकल बेड से उतर जाते है और तब स्वीटी बेड पर टाँगे फैलाकर लेटी रहती है फिर अंकल अपने बटुए से काफी सारे पैसे निकालकर स्वीटी की चुत पर फेंक देते है। तब स्वीटी फिर से हंसने लग जाती है और वो खड़ी होकर अपने पपा के गले लग जाती है और फिर वो दोनों एक दूसरे की गालों पर किस करते हैं। फिर अब अंकल भी थोड़े खुल गए थे तो वो अब अच्छे से सीन करने लगते है। 

 

फिर अगला सीन शिल्पा अंकल, सोनिया और पंकज को लेकर करती है। जिसमे अंकल और सोनिया पति पत्नी होते है पर अंकल सोनिया को खुश नहीं रख पाते है तो फिर सोनिया पंकज को अपना बॉयफ्रेंड बना लेती है और फिर उसके साथ मस्ती करती हैं। फिर सीन शुरू होता है जिसमे अंकल सोनिया की चुदाई कर रहे होते है पर वो जल्दी झड़ जाते है तो फिर सोनिया उनसे झगड़ा करने लगते है। फिर सोनिया अपने पड़ोस में रहने वाले पंकज से मिलती है। पंकज तब थोड़ा डर रहा था क्योंकि वो अपनी मम्मी के साथ सीन करने वाले था तो फिर उसे सोनिया और शिल्पा ने समझाया तो फिर तैयार हो गया। फिर पंकज सोनिया को डेट पर ले जाने लगा तो तब सोनिया शॉर्ट और सेक्सी ड्रेस पहनकर जाती। असल मे वो तब डाइनिग टेबल पर बैठकर ही अपनी डेट कर रहे थे। फिर पंकज सोनिया से रोमांस करने लगता हैं। वो दोनों एक दूसरे की आँखों में आखें डालकर बैठ जाते है और फिर वो लिप किस भी करते हैं। फिर एक दिन सोनिया पंकज को लेकर अपने घर ले जाती है और फिर वो दोनों कमरे मे चले जाते है और जाकर बेड पर बैठ जाते है। फिर वो पहले सोनिया की ड्रेस खोलता है और फिर सोनिया ने नीचे पैंटी पहनी होती है तो फिर सोनिया घोड़ी बन जाती है तो फिर पंकज अपने हाथों से सोनिया की पैंटी उतारता है और फिर शिल्पा के कहने पर वो सोनिया की गाँड में मुँह डालकर किस भी करता है। फिर वो सोनिया के पैरों से पैंटी पूरी निकाल देता है और फिर वो घुटनों के बल खड़े हो जाते है। तब पंकज सोनिया के पीछे खड़ा होता है तो वो सोनिया की गर्दन पर किस करने लगता है और फिर दोनों हाथों से सोनिया के बोबो को सहलाने लगता हैं। 

 

ये सीन देखने वाला होता है। फिर सोनिया घोड़ी बन जाती है तो फिर पंकज सोनिया की गाँड सहलाने लगता है और फिर सोनिया पीछे की तरफ देखते हुए मुस्कुराने लगती है। फिर पंकज सोनिया की गाँड पर थप्पड़ मारने लगता है तो फिर सोनिया दर्द से कराहने की ऐक्टिंग करने लगती है। फिर सोनिया पंकज को लेटाकर उसका लंड सहलाने लगती है और फिर उसके लंड के आसपास वाली जगह को चूमने लगती है तो ये देखकर फिर स्वीटी भी अपने पापा का लंड सहलाने लग जाती है। फिर सोनिया लेट जाती है तो फिर पंकज सोनिया की जांघों को चूमने लगता है और फिर सोनिया पंकज को अपनी चुत खोलकर दिखाती है तो फिर सोनिया हंसने लग जाती है। लेकिन फिर शिल्पा उसे सीन फिर से करने के लिए कहती है तो फिर सोनिया अपनी चुत खोलकर पंकज को दिखाने लगती है और फिर पंकज सोनिया की चुत को देखकर अपना लंड सहलाने लग जाता है तो फिर पंकज सोनिया के बोबो को चूसने लगता है और फिर वो सोनिया की चुत पर तकिया रखकर चुदाई की ऐक्टिंग करने लगते हैं। फिर वो दोनों एक दूसरे से चिपक कर सो जाते है और सीन वहीं खत्म हो जाता हैं। इस सीन के बाद पंकज सोनिया के गले लग जाता है और सोनिया उसे खूब प्यार करती है। उधर स्वीटी मेरे और अंकल के बीच बैठी हुई होती है और हम तीनों आपस मे बातें कर रहे थे। फिर हम तीनों एक साथ लेट जाते है तब स्वीटी की मेरी तरफ पीठ होती है तो फिर मैं पीछे से स्वीटी की चुदाई करने लगता हूँ। आगे से अंकल स्वीटी के बोबो को सहलाने लगते हैं। फिर मेरे झड़ने के बाद भी हम वैसे ही लेटे रहते है। 

 

उधर फिर अगला सीन अंकल और स्वीटी के लिए होता है। जिसमे अंकल एक अमीर बूढ़ा और स्वीटी उसकी जवान बीवी होती है। फिर सीन शुरू होता है जिसमे अंकल स्वीटी को कहीं घुमाने ले गए होते है तो फिर स्वीटी घर में ही अंकल के साथ अलग अलग बिकीनी पहनकर फोटो खिंचवाती है। फिर वो खुलकर रोमांस करते हैं। स्वीटी अपने पापा को अपने बोबे चुसवाती है और अंकल भी स्वीटी को अपनी बाहों में लेकर उसके बोबो को खूब दबाते है। फिर वो जब घूमने के बाद घर आते है तो स्वीटी अपने पति यानि अंकल को इसके लिए थैंक यू कहती है तो फिर अंकल कहते है के सिर्फ थैंक यू से काम नहीं चलेगा तो फिर फिर स्वीटी मुसकुराती हुई बेडरूम में चली जाती है। फिर वहाँ जाकर स्वीटी अपनी बिकीनी उतार देती है तो फिर अंकल उसकी बिकीनी उठाकर चूमने लगते है और अपना लंड सहलाने लगते है और फिर स्वीटी जाकर बेड पर लेट जाती है और अपने दोनों बोबो को सहलाने लग जाती है। फिर अंकल भी जाकर स्वीटी के पास लेट जाते है और फिर स्वीटी की चुत को सहलाने लगते है। तब ये देखकर स्वीटी मुस्कुराने लग जाती है। फिर स्वीटी अंकल के ऊपर आकर उनके बदन को चूमने लग जाती है और फिर उनके लंड को सहलाने लग जाती है और फिर उस पर किस भी कर देती है। तब अंकल का लंड आधा खड़ा होता है। फिर अंकल स्वीटी को लेटा लेटे है और फिर स्वीटी के ऊपर आकर उसकी चुत पर किस करने लगते है तो तब स्वीटी हंसने लगते है तो फिर शिल्पा उसे चुप रहकर सीन करने के लिए कहती है तो फिर अंकल फिर से स्वीटी की चुत पर किस करने लगते हैं। फिर स्वीटी घोड़ी बन जाती है तो फिर अंकल उसकी गंड की दरार पहले तो अपने हाथ से सहलाने लगते है और फिर अपना मुँह उसकी गांड मे डाल देते है। फिर अंकल पीछे से अपना लंड स्वीटी की गाँड मे रगड़ने लगते है और फिर वो चुदाई की ऐक्टिंग करने लगते है। फिर चुदाई के बाद वो एक दूसरे के साथ चिपक कर सो जाते है। जैसे रात हो गई हो। फिर वो कुछ देर के बाद उठ जाते है और फिर तो अंकल बिना शर्म के ही स्वीटी के बदन को सहलाने लगते हैं। 

 

फिर वो दोनों शॉवर लेने चले जाते है और फिर अंकल स्वीटी के बदन को खूब सहलाते है और लिप किस करते है। फिर शॉवर लेने के बाद स्वीटी तैयार हो जाती है और फिर जब वो अंकल की तरफ देखती है तो अंकल बेड पर लेटकर अपना लंड सहला रहे होते है तो फिर स्वीटी अंकल के पास जाती है और घुटनों के बल बैठकर अंकल के लंड को सच में मुँह मे लेकर चूसने लग जाती है। फिर अंकल झड़ जाते है तो फिर स्वीटी उनका पानी भी पी जाती है। फिर वो अंकल के मुँह के ऊपर बैठकर अपनी चुत अंकल से चुसवाने लगती है। तब स्वीटी तो नहीं झड़ती है पर फिर वो एक दूसरे से चिपक कर सो जाते है और सीन वहीं पर समाप्त हो जाता है। फिर सीन के बाद अंकल और स्वीटी एक दूसरे की गाल पर किस करते है। 

 

फिर अगला सीन शिल्पा अंकल और पंकज के साथ करती है तो वो दोनों खुश हो जाते है। सीन इस तरह होता है की शिल्पा पंकज की बीवी होती है और अंकल पंकज़ का बाप। फिर अंकल को पंकज की बीवी से प्यार हो जाता है तो फिर वो शिल्पा दोनों को एक साथ चुदाई के लिए तैयार कर लेती है और फिर वो दोनों के साथ मजे करती है। सीन शुरू होता है तब पंकज और शिल्पा बेड पर नंगे लेटे हुए होते है। फिर पंकज शिल्पा के बदन को सहलाता है और फिर शिल्पा की चुत चूसने लगता है और फिर जब उसका लंड खड़ा हो जाता है तो फिर वो सच में शिल्पा की चुदाई करने लगता है। फिर चुदाई के बाद पंकज तैयार होकर ऑफिस चला जाता है। शिल्पा मॉडर्न लड़की होती है तो वो घर पर शॉर्ट ड्रेस पहनती है जिसमे देखकर अंकल शिल्पा को देखते ही रह जाते है। फिर शिल्पा अंकल को खुलकर अपने बदन के दर्शन करवाने लग जाती है। पंकज के सामने भी वो घर पर ऐसे ही शॉर्ट ड्रेस पहनती है। फिर एक दिन जब शिल्पा नहाकर आती है तो वो पूरी नंगी होती है और उसके सिर पर टोवेल बंधा होता है तो फिर तब अंकल उसे देख रहा होता है और फिर आकर शिल्पा को पीछे से पकड़ लेता है। तब शिल्पा थोड़ी घबराने की ऐक्टिंग करती है लेकिन वो अंकल को कुछ नहीं कहती है और फिर वो अपने ससुर के साथ मजे करती है। फिर अंकल भी शिल्पा की चुत चूसकर खूब मजे लेते है। फिर एक दिन जब शिल्पा अपने ससुर के साथ बेड पर नंगी थी तो फिर पंकज उन्हे देख लेता है और फिर वो गुस्सा होने लगता है तो फिर शिल्पा उसे मना लेती है और फिर वो दोनों से खूब मस्ती करती है और सीन खत्म हो जाता है। 

 

फिर अगला सीन मेरा, सोनिया और स्वीटी का होता है। जिसमे स्वीटी मेरी गर्लफ्रेंड होती है और सोनिया उसकी माँ और फिर सोनिया भी मुझे पसंद करने लगती है और फिर मैं उन दोनों की चुदाई करता हूँ। फिर सीन शुरू होता है जिसमे मैं और स्वीटी नंगे बेड पर होते है और फिर हम चुदाई करते हैं। मैं सबके सामने ही स्वीटी को अलग अलग पोज मे चोदता हूँ। फिर मैं स्वीटी से मिलने उसके घर पर जाता हूँ तो वहाँ स्वीटी की मॉम यानि सोनिया होती है जो मुझे पसंद करने लगती है। फिर वो मुझसे और स्वीटी के साथ एकदम फ़्रेंडली रहती है और फिर हम तीनों एक साथ काफी बात करते है और बाहर घूमने जाते है। स्वीटी मॉडर्न लड़की है तो फिर सोनिया जब शॉर्ट ड्रेस पहनती है तो फिर वो सोनिया को बिल्कुल नहीं रोकती है। फिर स्वीटी बिकीनी पहनती तो फिर सोनिया भी बिकीनी पहनने लगी। इसी तरह फिर मेरा मन भी सोनिया की चुदाई के लिए करने लगा। अब स्वीटी भी सब कुछ समझ चुकी थी तो फिर उसने खुद ही मुझे सोनिया को मेरी बाहों मे दे दिया फिर मैं और सोनिया स्वीटी के सामने ही एक दूसरे से मिलने लगे। फिर एक दिन हम तीनों का मूड बन गया तो फिर हम तीनों कमरे मे चले गए और फिर मैंने उन दोनों को नंगी कर दिया। फिर हम तीनों एक दूसरे के बदन को चूमने लगे। फिर मैं उन दोनों को घोड़ी बनाकर चोदने लगा सच में सबके सामने। मैंने उन दोनों की खूब जमकर चुदाई की और फिर वो दोनों मुझसे चिपक कर लेट गई। 

 

फिर ये सब सीन करते हुए हमें टाइम का पता ही नहीं चला। पर इस सबके कारण अंकल हम सब के साथ खुल गए। फिर हम सब बैठकर बातें करने लगे तो हम सब तब काफी खुश थे। तब शाम हो चुकी थी पर हम सब चाहते थे के बस हमेशा ऐसे ही चलता रहे। पर फिर शिल्पा ने जाने के लिए कहा तो हम सबने उसे रुकने के लिए कहा। पर वो नहीं रुक सकती थी तो फिर वो चली गई। फिर शिल्पा के जाने के बाद थोड़ी देर के लिए मै भी अपने घर चला गया और फिर वापिस आ गया। तब देखा के घर पर सिर्फ स्वीटी और पंकज ही थे तो फिर मैंने उनसे अंकल और सोनिया के बारे में पूछा तो फिर उन्होंने बताया के वो दोनो किसी रिलेटिव के यहाँ चले गए है और कल तक ही वापिस आएंगे।  

अगले भाग में पढिए के आगे क्या-क्या हुआ...

अकेली मम्मी और अकेला मैं - 4

संबधित कहानियां
विधवा मम्मी ने अपने बेटे से चुदकर अपनी प्यास बुझाई
विधवा मम्मी ने अपने बेटे से चुदकर...
जिसकी मम्मी ऐसी हो उसे और क्या चाहिए
जिसकी मम्मी ऐसी हो उसे और क्या...
मम्मी पोंछा लगा रही थी तो बेटे ने ये कर दिया
मम्मी पोंछा लगा रही थी तो बेटे...

कमेंट्स


कमेन्ट करने के लिए लॉगइन करें या जॉइन करें

लॉगइन करें  या   जॉइन करें
  • अभी कोई कमेन्ट नहीं किया गया है!